दो पटाखा दुकानों में पुलिस की दबिश, दोनों गोदाम मिले खाली

दीपावली से महज दो दिन पहले गुरुवार को सुबह 11 बजे कोतवाली पुलिस अचानक पटाखा व्यापारियों के दुकानों में दबिश देने के लिए पुराने मार्केट में पहुंची उससे पहले ही व्यापारियों ने अपने गोदामों को खाली कर दिया।

By: Bhawna Chaudhary

Published: 13 Nov 2020, 03:43 PM IST

कांकेर. दीपावली से महज दो दिन पहले गुरुवार को सुबह 11 बजे कोतवाली पुलिस अचानक पटाखा व्यापारियों के दुकानों में दबिश देने के लिए पुराने मार्केट में पहुंची उससे पहले ही व्यापारियों ने अपने गोदामों को खाली कर दिया। घंटों मशक्कत के बाद पुलिस टीम को कुछ हाथ नहीं आया और खाली ही लौटना पड़ गया। यह दबिश कोतवाली परिसर से मात्र 30 मीटर की दूरी पर दी गई थी, जहां काफी दिनों से पटाखा का विक्रय खुलेआम किया जा रहा था।

वैसे तो नगर में अवैध रूप से पटाखों का व्यापार काफी दिनों से फल फूल रहा है। पटाखा दुकानदार सिर्फ दिवाली पर बाहर विक्रय के लिए जाते हैं। अन्य दिनों में तो खुलेआम शहर के बीच बारुद का ढेर लगाकर विक्रय करते है। माना जा रहा कि पुलिस टीम की दबिश से पहले व्यापारियों को भनक लग चुकी थी। जिस गोदाम में रोज लाखों का बारुद रखा रहता था वहां गुरुवार को कुछ नहीं मिला और पुलिस खाली हाथ लौट गई।

एसडीओपी तस्लीम आरिफ ने बताया कि दीपावली पर्व पर नगर में कई ऐसे व्यापारी हैं जो विना लाइसेंस अवैध रूप से पटाखा का व्यापार करते हैं। जिसकी सूचना मिलने पर गुरुवार को पुराना बाजार के कई दुकानों में छापेमारी कार्रवाई की गई, हालांकि किसी भी दुकान में पुलिस को अवैध ढंग से स्टोर किया गया पटाखा बरामद नहीं हो पाया। पुलिस ने बताया कि प्रत्येक पटाखा व्यापारियों का दस्तावेज, भंडारण स्थल, मानक की जांच किया गया। पटाखों की जांच की गई। जहां व चाइनीज पटाखा नहीं मिला ।

पुराने बाजार में पटाखा व्यापारी मेघराज मंगलानी के दुकान की जांच करने पर पुलिस को कुछ पटाखा बरामद हुए लेकिन व्यापारी के पास बेचने का लाइसेंस मिलने पर भंडारण स्थल पर रखने की समझाइश दिया गया। नए कम्यूनिटी हॉल में करीब 37 पटाखा दुकानों में जाकर सभी का लाइसेंस और प्रतिबंधित पटाखों की जांच की, लेकिन सभी जगहों पर सही पाए जाने पर पुलिस को खाली हाथ लौटना पड़ गया।

Show More
Bhawna Chaudhary
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned