धनिया की खेती ने बदल दी इस किसान की किस्मत, आज कमा रहा लाखों रुपए

धनिया की खेती ने बदल दी इस किसान की किस्मत, आज कमा रहा लाखों रुपए

Bhawna Chaudhary | Updated: 14 Jul 2019, 12:46:16 PM (IST) Kanker, Kanker, Chhattisgarh, India

किसान (success story of Farmer) रोशन वट्टी उन्नत तकनीक से मसालों और सब्जियों की खेती (coriander cultivation) कर रहा है। आज किसान की वार्षिक आय 4.50 लाख रुपए से अधिक हो चुकी है।

कांकेर. छत्तीसगढ़ के कांकेर जिले के विकासखंड नरहरपुर के ग्राम साल्हेभाट के किसान (success story of Farmer) रोशन वट्टी उन्नत तकनीक से मसालों और सब्जियों की खेती (coriander cultivation) कर रहा है। उन्होंने बताया कि वह दो साल पहले सिर्फ बारिश पर आधारित धान की फसल ले पाता था। किसान को अपने खेतों में कम उत्पादन होने पर आर्थिक तंगी का सामना भी करना पड़ता था, लेकिन अब कृषि विभाग की योजनाओं का लाभ उठाकर धान की फसल के साथ- साथ मसालों और सब्जियों की खेती भी कर रहा है। वह अपने खेतों में ड्रिप विधि से सिंचाई कर रहा है।

किसान रोशन वट्टी ने बताया कि उनके पास कृषि भूमि 4.40 हेक्टेयर है, जिसमें से 2.42 हेक्टेयर भूमि में ड्रिप सिंचाई पद्धति लगाया है। जिससे वर्षभर फसल उत्पादन किसान करता है, जिसके फलस्वरूप परिवार के सभी सदस्यों को कृषि कार्य में रोजगार निरंतर मिल रहा है। परिवार की आर्थिक स्थिति में सुधार हुआ है। कृषक का कहना है कि शासन की मदद से उनके जीवन में नया सबेरा आया है। वह कृषक समृद्धि योजना का लाभ उठाकर 2015 में नलकूप खनन करवाया था। सिंचाई का साधन उपलब्ध होने से कृषक के खेती की दशा और दिशा में प्रगति हुई है।

success story of Farmer

वर्ष 2017 में उद्यानिकी विभाग की पहल पर ड्रिप विधि से किसान सिंचाई कर रहा है। इससे कृषक को वर्षभर खेती करके में आसानी हो रही है और अपनी आमदनी में वृद्धि भी कर रहा है। कृषक रोशन वट्टी ने बताया कि सम्पूर्ण योजनाओं का लाभ उठाकर एक सफल कृषक बनने की ओर अग्रसर हो रहा है।

उक्त कृषक विकासखंड नरहरपुर में कृषि विभाग के आत्मा योजना से स्प्रेयर, धान, मक्का, अरहर, धनिया बीज एवं जैविक खाद नि:शुल्क प्राप्त किया। आधुनिक पद्धति को अपनाकर कृषक उन्नत कृषि कर रहा है। कृषक ने बताया कि कृषि विभाग में आत्मा योजना में वह प्रशिक्षण भी लिया है। शैक्षणिक भ्रमण और खेत पाठशाला कार्यक्रमों में भी अपना योगदान देते आ रहा है। कृषक की वार्षिक आय 4.50 लाख रुपए से अधिक हो चुकी है। कृषक ने आत्मा योजना के तहत जैविक धनिया की खेती कर 45 हजार रुपए का लाभ प्राप्त किया है। कृषक अपने साथ आसपास के क्षेत्र के कृषकों को भी कृषि विभाग की योजनाओं का लाभ उठाकर उन्नत खेती करने के लिए प्रेरित कर रहा है। आसपास के किसानों ने बताया कि धनिया की खेती करने पर उन्हें काफी लाभ मिल रहा है।

Motivational News से जुड़ी तमाम ख़बरों को पढ़ने के लिए क्लिक करें

Chhattisgarh से जुड़ी Hindi News के अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Facebook पर Like करें, Follow करें Twitter और Instagram पर या LIVE अपडेट के लिए Download करें patrika Hindi News

Show More

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned