शिशु संरक्षण माह पर बच्चों को पिलाई गई विटामिन-ए की खुराक

विभिन्न कार्यक्रम के बारे में विस्तृत जानकारी दी गई तथा उपस्थित बच्चों को विटामिन-ए की खुराक पिलाया गया।

By: Deepak Sahu

Published: 03 Jan 2019, 04:00 PM IST

कोरर. छत्तीसगढ़ के कांकेर जिले के जिला टीकाकरण अधिकारी डॉ. आईएस सोम ने मंगलवार को स्वास्थ्य विभाग द्वारा चलाए जा रहे शिशु सरंक्षण माह के तहत वानांचल ग्राम तारंदुल में आयोजित शिशु संरक्षण माह सत्र का औचक निरीक्षण किया। स्वास्थ्य कार्यकर्ता से इस दौरान दी जाने वाली सेवाओं के बारे में जानकारी ली।

पिलाई गई बच्चों को विटामिन-A की खुराक
इस अवसर पर उपस्थित मितानिनों को विभाग के विभिन्न कार्यक्रम के बारे में विस्तृत जानकारी दी गई तथा उपस्थित बच्चों को विटामिन-ए की खुराक पिलाया गया। इस अवसर पर डॉ. सोम ने बताया कि यह कार्यक्रम हर छह माह के अंतराल में आयोजित किया जाता है। इसमें 9 माह से 5 वर्ष के बच्चों को विटामिन-ए की खुराक दी जाती है, ताकि बच्चों का शारीरिक और मानसिक विकास अच्छे से हो सके। इस दौरान ड्राप आउट और लेफ्ट आउट बच्चों की पहचान कर टिका लगाया जाता है, गर्भवती माता की जांच की जाती है और बच्चों को सप्ताह के 2 दिन आयरन की खुराक, गर्भवती और शिशुवती माताओं को आयरन की संपूर्ण खुराक तथा अतिकुपोषित बच्चों की पहचान कर उनको पोषण पुर्नवास केंद्र में भर्ती किया जाता है।

इस दौरान तारंदुल में ही संचालित किए जा रहे हेल्थ एंड वैलनेस सेंटर के आवश्यक उपकरण की जानकारी डॉ. नवीन पांडेय से ली और उसके अधोसंरचना के संदर्भ में आगामी कार्ययोजना बनाने के निर्देश दिए। इस दौरान कार्यक्रम में डॉ. नवीन पांडेय, सहायक चिकित्सा अधिकारी हाटकर्रा, महिला एवं पुरुष, आरएचओ, रोहित कवर, रेखा जैन, बसंता दर्रों, आंगनबाड़ी कार्यकर्ता, एंट्री, मितानिन सुमित्रा, गंगा, फूल बाई, संगीता, सनबत्ती, कपिल बागड़े, पिलाराम नेताम औऱ सहित अन्य उपस्थित थे।

Show More
Deepak Sahu
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned