पुलिस का कारनामा! 80 वर्ष के ब्लड कैंसर से पीड़ित बुजुर्ग का शांति भंग में कर दिया चालान

- बीमारी के चलते बुजुर्ग बेड से अकेले उठकर चलने-फिरने में भी असमर्थ है
- पीड़ित की ओर से सीओ छिबरामऊ को पत्र भेजा गया है
- सोशल मीडिया पर वीडियो पोस्ट कर लगाई न्याय की गुहार

By: Hariom Dwivedi

Updated: 18 Oct 2020, 11:53 AM IST

कन्नौज. कन्नौज पुलिस ने 80 वर्षीय रिटायर्ड शिक्षक का शांतिभंग में चालान कर दिया है। पुलिस को उनसे मारपीट व माहौल खराब कर शांति-व्यवस्था भंग करने का डर है। जबकि हालत यह है कि बुजुर्ग बिना सहारे के पैरों पर खड़े भी नहीं हो पाते हैं। बुजुर्ग ब्लड कैंसर से पीड़ित है, बीते 15 वर्षों से उसका इलाज चल रहा है। सोशल मीडिया पर पीड़ित का वीडियो पोस्ट किया गया है, जिसमें वह न्याय की गुहार लगा रहा है। इसके अलावा पीड़ित की ओर से सीओ छिबरामऊ को पत्र भी भेजा गया है। मामले में अधिकारी जांच कराने की बात कर रहे हैं।

कन्नौज जिले के सौरिख थाना क्षेत्र के कुंवरपुर कांशीदीन गांव के रहने वाले रिटायर्ड शिक्षक राजेंद्र सिंह (80) साल 2005 से कैंसर की बीमारी से पीड़ित है। उनका इलाज नई दिल्ली के राजीव गांधी कैंसर अस्पताल से चल रहा है। बीमारी के चलते वह बेड से अकेले उठकर चलने-फिरने में भी असमर्थ है। उनकी आंखों की रोशनी भी कम है। इसके बावजूद पुलिस को उनसे मारपीट व माहौल खराब कर शांति व्यवस्था भंग करने का डर है। चपुन्ना चौकी पुलिस ने बिना जांच-पड़ताल किए बीमार शिक्षक के खिलाफ शांतिभंग की आशंका के तहत कार्रवाई कर दी। मामले की जानकारी होने पर बीमार शिक्षक ने वीडियो बनाकर सोशल मीडिया पर डालकर न्याय की गुहार लगाई है। छिबरामऊ सीओ शिवकुमार थापा ने सौरिख थाना इंचार्ज को जांच कर रिपोर्ट देने के आदेश दिए हैं।

Show More
Hariom Dwivedi
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned