रोजगार सेविका पर लगा आवास दिलाने के नाम पर अवैध वसूली का आरोप, किया प्रदर्शन

पीड़ितों के समर्थन में भारतीय किसान यूनियन सड़क पर उतर आई

By: Neeraj Patel

Published: 20 Oct 2020, 01:19 PM IST

कन्नौज. जिले में गोधनी पंचायत के नेकपुर खत्री गांव में प्रधानमंत्री आवास योजना का लाभ दिलाने के नाम हुई अवैध वसूली का मामला थमने का नाम नहीं ले रहा है। पीड़ितों के समर्थन में भारतीय किसान यूनियन सड़क पर उतर आई है। पीड़ित कलेक्ट्रेट परिसर पहुंचकर रोजगार सेविका पर कार्रवाई की मांग कर प्रदर्शन करते हुए धरने पर बैठ गए। पीड़ित महिलाओं ने आरोप लगाया है कि रोजगार सेविका ने आवास दिलाने के नाम पर पांच-पांच हजार रुपए ले लिए हैं, लेकिन आवास अपात्रों को दे दिए गए है। पीड़ितों ने जांच कर कार्रवाई की मांग की है, वहीं भारतीय किसान यूनियन लोक शक्ति ने न्याय न मिलने पर अनिश्चित कालीन धरना देने की चेतावनी दी है।

सोमवार को भारतीय किसान यूनियन लोक शक्ति की अगुवाई में गोधनी ग्राम पंचायत के नेकपुर खत्री गांव निवासी मिथलेश पाल, वीरेंद्र कुमार, रामेंद्री, आरती राठौर, रीता देवी, गीता देवी, गिरजा, लौंगश्री, तारावती समेत दर्जनों समूह की महिलाएं हाथों में बैनर पोस्टर लेकर कलेक्ट्रेट परिसर पहुंची. ग्राम प्रधान व रोजगार सेविका राधिका कटियार के खिलाफ जमकर नारेबाजी कर धरना प्रदर्शन किया।

आरोप लगाया है कि रोजगार सेविका ने प्रधानमंत्री आवास योजना का लाभ दिलाने के नाम पर समूह की महिलाओं से पांच पांच हजार रुपए वसूल लिए, लेकिन आवास की सूची में नाम अपात्रों के शामिल कर दिए। अधिकांश महिलाओं ने घर में रखे जेवर बेचकर रुपए दिए थे, लेकिन अब न तो आवास मिल रहा है न ही रुपए वापस दिए जा रहे हैं। आरोप लगाया है कि कई बार शिकायत करने के बाद भी कोई कार्रवाई नहीं हो रही है।

पीड़ितों ने आरोप लगाया है कि रोजगार सेविका ने जिन लोगों की प्रधानमंत्री आवास की पहली किश्त आई उनसे 20-20 हजार रुपए की मांग कर रही है। रुपए न देने पर सूची से नाम काटने की धमकी देती है। किसान यूनियन ने रोजगार सेविका को हटाए जाने व मामले की जांच की मांग की है। साथ ही कार्रवाई न होने पर अनिश्चित कालीन धरना देने की भी चेतावनी दी है।

Neeraj Patel
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned