देखें वीडियो- CCTV पर कैद हुई पूरी वारदात, देखकर आप रह जाएंगे दंग

Ruchi Sharma

Publish: Feb, 15 2018 01:33:12 PM (IST)

Lucknow, Uttar Pradesh, India
देखें वीडियो- CCTV पर कैद हुई पूरी वारदात, देखकर आप रह जाएंगे दंग

मंदिरों में चोरी की वारदातों को देते थे अंजाम लेकिन बच न सके उस नजर से जो रखे था सब पर नजर

 

कन्नौज. कन्नौज पुलिस ने सर्विलांस टीम के साथ मिलकर प्राचीन मंदिरों में चोरी करने वाले गिरोह का पर्दाफाश किया है। जो मन्दिरों में वेशकीमती मूर्तियों की चोरी करते थे। चोरी के अपने शातिराना अंदाज से यह कुछ ही मिनट में ताला काटकर, शटर काटकर सर्राफा की दुकानों में चोरी की घटनाओं को अंजाम देते थे। तीन शातिर बदमाशों व चोरी का माल खरीदने वाले तीन सराफ व दलालों को गिरफ्तार कर लाखों के सोने-चांदी के जेवर व बिक्री की नकदी बरामद की गई है। गिरोह ने उत्तर प्रदेश के साथ अन्य राज्यों में चोरी की घटनाओं को अंजाम दिया है। अभियुक्तों ने पुलिस को बताया कि वह देश के अलग-अलग राज्यों में अब तक पांच दर्जन वारदात कर चुके हैं।

पुलिस अधीक्षक हरीश चन्दर ने बताया कि यह शातिर चोर है, जिन्होंने कई मन्दिरों को अपना निशाना बनाया जिसमें वेशकीमती मूर्तियों की चोरी की जो इनके पास से बरामद हुई है। मूर्तियां वेशकीमती है जिसकी जांच की जा रही है साथ ही इन लोगों ने सर्राफा दुकानों को भी निशाना बनाकर जेवरात चुराये है। इनके पास से चोरी का माल बरामद किया गया है। यह लोग कई राज्यों में चोरी की घटनाओं को अंजाम दे चुके है। इनका चोरी करते हुए एक वीडियो भी मिला है जिसमें यह एक मन्दिर में चोरी करते साफ दिख रहे है।

ऐसे चढ़े पुलिस के हत्थे

पुलिस जानकारी के अनुसार सर्विलांस टीम प्रभारी ने तिर्वा स्थित राजकीय मेडिकल कॉलेज के पास झगड़ा करते लोगों को दबोचा। पूछताछ में वह प्राचीन मंदिरों में चोरी करने वाले कुंवर पाल बंजारा गैंग के शातिर निकले। आरोपियों ने अपने नाम संजय बंजारा, राजू बंजारा निवासी कन्नौज, बीरेश बंजारा निवासी ग्राम मनेना, थाना गंगीरी, अलीगढ़ , सराफा बाजार के दलाल चंद्रप्रकाश उर्फ चंदू निवासी हलवाईखाना, बड़ा बाजार, थाना गांधी पार्क अलीगढ़, शरीफ निवासी शाहजहां माल ईदगाह, थाना देहली गेट, अलीगढ़ व सर्राफ विशाल वर्मा निवासी बीएसएनएल टॉवर वाली गली, अकराबाद, थाना व जिला अलीगढ़ बताए, जबकि एक अन्य विश्वनाथ उर्फ भपल्ली बंजारा निवासी कन्नौज भागने में कामयाब रहा।

रीवां राजमहल में हुयी हत्या व डकैती से जुड़े तार

मध्य प्रदेश के रीवां राजमहल में हत्या और डकैती करने वाले शातिर कुंवर पाल बंजारा गैंग के शातिर सदस्य प्राचीन मंदिरों में चोरी करने के बाद माल अलीगढ़, कानपुर समेत अन्य प्रमुख शहरों के सराफा बाजार में बेचते थे। फरार आरोपी विश्वनाथ रीवां राज महल डकैती के मामले में छह वर्षों से वांछित अभियुक्त है। गैंग के शातिर अलीगढ़ के सराफा बाजार में पंजीकृत तौर पर दलाली करने वाले चंद्र प्रकाश उर्फ चंदू, शरीफ व विशाल वर्मा के साथ मिलकर पहले चोरी का माल लाते थे। इनके कब्जे से छह किलो चांदी के साथ 41 हजार रुपये नकद बरामद हुए।

कई जिलों से जुड़े हैं तार

ये बदमाश इलाहाबाद के राम नगर में मंदिर, कानपुर नगर के बिठूर में बजरंग बली बाबा मंदिर, भदोही के भानपुर में मंदिर, कन्नौज पाल चौराहे में शराब ठेके, राजस्थान के बाइतू में मेडिकल स्टोर में चोरी, बाडमेर में वारदात के बाद पकड़े गए। बिहार के सीतामढ़ी में सुनार की दुकान की तिजोरी से लाखों के जेवर, बाराबंकी कस्बे में सुनार की दुकान से तीन किलो चांदी, महाराष्ट्र के नासिक चोरी, कानपुर देहात के भोगनीपुर अंतर्गत सिकंदरा रोड स्थित दरगाह, औरैया के कई मंदिरों में वारदात करने की बात कबूली। कन्नौज के तिर्वा अंतर्गत ग्राम टिकरा स्थित अजय सिंह के घर व गांगेमऊ गांव से देवेंद्र अवस्थी के घर से लाखों का माल चोरी किया।

इन जगह की चोरियां

08 जनवरी 2018 : जिला श्रावस्ती के ग्राम गोपाल सराय, थाना सोनवां स्थित मंदिर से राम, लक्ष्मण व सीता की मूर्तियां चोरी।
23 मई 2017 : कानपुर नगर के बाबूपुरवा थानांतर्गत प्राचीन जंगली देवी मंदिर से चांदी के छत्र व सोने की नथ चुराई।
15 दिसंबर 2017 : बहराई के थाना दरगाह शरीफ अंतर्गत श्याम बाबा व राणी सती मंदिर से लाखों के जेवरात व सामान।
छह नवंबर 2016 : कानपुर देहात के अकबरपुर के नेहरू नगर में बालाजी मंदिर के ताले काटकर लाखों के जेवरात व मूर्तियां।
30 नवंबर 2016 : जबलपुर मप्र. के कस्बा खितौली स्थित मंदिर से लक्ष्मी नारायण, राधा कृष्ण समेत कई मूर्तियां व सोने-चांदी के आभूषण।

1
Ad Block is Banned