धान खरीद केंद्रों पर धांधलियां देख डीएम का पारा चढ़ा, कई निलम्बित किए

यूपी के कई जिलों में चल रही है धान की खरीद
डीएम कन्नौज ने धान खरीद के कई केंद्रों का निरीक्षण किया
केंद्रों पर खामियों मिलने पर डीएम बेहद नाराज हुए और सख्त ऐक्शन लिया

By: Mahendra Pratap

Updated: 22 Nov 2020, 10:38 AM IST

कन्नौज. यूपी के कई जिलों में धान की खरीद चल रही है। डीएम कन्नौज ने धान खरीद के कई केंद्रों का निरीक्षण किया। केंद्रों पर खामियों मिलने पर डीएम बेहद नाराज हुए और सख्त ऐकशन लेते हुए, तिर्वा पीएसएफ केंद्र प्रभारी ब्रजेश चंद्र व खड़िनी के किसान सेवा सहकारी समिति में पीसीएफ खरीद केंद्र के प्रभारियों को निलंबित कर दिया।

सिर्फ 30 कुंतल धान खरीद देख डीएम का पारा चढ़ा : डीएम राकेश कुमार मिश्र ने सीडीओ आरएन सिंह के साथ जिले के कई धान खरीद केंद्रों का औचक निरीक्षण किया। तिर्वा मंडी में एक सप्ताह पहले खुले सहकारी समिति के केंद्र पर सिर्फ 30 कुंतल धान की खरीद देख डीएम का पारा चढ़ गया। उन्होंने केंद्र प्रभारी बृजेश चंद्र को फटकार लगा दी। एसडीएम जयकरन को निलंबन करने के निर्देश दिए। इसके साथ ही मंडी में टिन शेड के अंदर व्यापारियों का अनाज रखा देख डीएम ने व्यापारियों व मंडी कर्मचारियों को जमकर फटकार लगाई। यहां सरकारी धान रखने के लिए कहा। व्यापारियों के टिन शेड खाली न करने पर कार्रवाई के निर्देश दिए। कहाकि खरीद के दौरान किसानों को परेशान न किया जाए। इस मौके पर डिप्टी आरएमओ समरेंद्र प्रताप सिंह समेत कई अफसर व कर्मी मौजूद रहे।

गांवों में मुनादी करा किसानों को जागरूक करें : डीएम व सीडीओ ने डिप्टी एआरएमओ के साथ भारतीय खाद्य निगम के खरीद केंद्र पर किसानों की मौजूदगी न देख नाराजगी जताई। गांवों में मुनादी कराकर किसानों को जागरूक करने के निर्देश दिए। विपणन शाखा के केंद्र पर खरीद चल रही थी। शासन की मंशा के अनुरूप खरीद न होने पर उन्होंने केंद्र प्रभारी गजेंद्र शर्मा को खरीद में तेजी लाने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि केंद्र पर आने वाले काश्तकारों को ज्यादा से ज्यादा सहूलियत दें। इससे कि वह दूसरे किसानों को भी केंद्र पर आने के लिए प्रेरित करें।

हर रोज 350 कुंतल धान खरीद का निर्देश : किसान सेवा सहकारी समिति पर संचालित पीसीएफ खरीद केंद्र पर 35 दिनों में महज 19 किसानों से खरीद देख डीएम ने नाराजगी व्यक्त की। डीएम ने सभी केंद्र प्रभारियों को प्रतिदिन की खरीद, शिकायतों व रिजेक्ट धान का विवरण दर्ज करने के निर्देश दिए। हर रोज कम से कम 350 कुंतल खरीद करने के लिए कहा।

Mahendra Pratap Content
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned