ये है 600 साल पुराना मंदिर, यहां मुस्लिम महिलाएं करती हैं जलाभिषेक

Akanksha Singh

Publish: Feb, 15 2018 02:43:23 (IST)

Lucknow, Uttar Pradesh, India
ये है 600 साल पुराना मंदिर, यहां मुस्लिम महिलाएं करती हैं जलाभिषेक

हिन्दू मुस्लिम एकता का प्रतीक कन्नौज का का 600 साल पुराना मंदिर है

लखनऊ. हिन्दू मुस्लिम एकता का प्रतीक कन्नौज का का 600 साल पुराना मंदिर है जहां मुस्लिम महिलाएं भी भगवान शिव को जल चढ़ाती हैं। यहाँ हर शिवरात्रि पर जिले की मुस्लिम महिलाओं श्रद्धा पूर्वक जलाभिषेक करने आती हैं और धूम धाम से महाशिवरात्रि का पर्व मनाती हैं।

यह भी पढ़ें - श्रंगीरामपुर में महाशिवरात्रि तक चलने वाले कांवरिया मेले में कांवरियों का सैलाब उमड़ा

इसे परम्परा मानती हैं मुस्लिम महिलाएं

यहाँ स्थित मुल्सिम महिलओं का कहना है कि हमारे लिए अल्लाह और भगवान में कोई अंतर नहीं है और हमें सभी धर्मों का समान रूप से सम्मान करना चाहिए। मुस्लिम महिलाओं ने इसे भी अपनी परंपरा का हिस्सा बताया।

यह भी पढ़ें - युवती की मौत के मामले में आया नया मोड़, मायके पक्ष ने लगाया दहेज उत्पीड़न और हत्या का आरोप

कन्नौज के छिबरामऊ में छः सौ वर्ष पुराने इस चमन ऋषी आश्रम में भगवान शिव की पूजा करने के लिए हिन्दू व मुस्लिम दोनों ही समुदाय के लोग हर वर्ष आते है। मुस्लिमों के मंदिर आने और शिवजी की अराधना करने का ये सिलसिला कई वर्षों से जारी है। यहां मुस्लिम महाशिवरात्रि पर विशेष रूप से भोलेनाथ का जलाभिषेक करते हैं और मनोकामना पूरी होने का आशीर्वाद मांगते हैं।

यह भी पढ़ें - दबंगों की धमकी से पीड़ित गांव छोड़ने पर हुआ मजबूर, मजदूरी मांगने पर दबंगों ने दुकानदार को पीटा

यहां आने वाली मुस्लिम महिलाओं ने जब पूछा गया तो उन्होंने ने बताया कि वे यहां पर काफी पहले से आ रहे हैं। उनके बाप-दादा भी यहां आते थे। वे इसे अपनी परंपरा का हिस्सा बताती है। मुस्लिम महिलाओं का कहना था कि हिन्दू-मुसलमान में कोई अंतर नहीं है और वे सभी धर्मों का सम्मान करती है और सभी को ऐसा ही करना।

यह भी पढ़ें - पैसे के लिये बैंक की लाइन में खड़ा रहा पिता, बाहर मां की गोद में निकल कई मासूम की जान

1
Ad Block is Banned