एक बार फिर मौसम बदलने से आंधी पानी ने मचाई तबाही, दो की हुई

एक बार फिर मौसम बदलने से आंधी पानी ने मचाई तबाही, दो की हुई

Mahendra Pratap | Publish: Jun, 14 2018 01:28:20 PM (IST) Lucknow, Uttar Pradesh, India

जिले एक बार फिर से आंधी और पानी ने कई घरों में तबाही मचाई।

कन्नौज. जिले एक बार फिर से आंधी और पानी ने कई घरों में तबाही मचाई, तो वहीं इसकी चपेट में आये दो लोगों की जान चली गयी। देर रात तेज आंधी-पानी ने पूरे जिले में तबाही मचाई। इसकी चपेट में आने से अलग-अलग क्षेत्रों में दो महिलाओं की मौत हो गई जबकि एक महिला गंभीर रूप से लहूलुहान हो गई। गंभीर हालत में परिजनों ने उसे जिला अस्पताल में भर्ती कराया। इसके अलावा छह मवेशी दबने से मर गए।

मलबे में दबी सोनकली

कन्नौज जिले में देर रात अचानक तेज से नगर व ग्रामीण इलाकों में अफरा-तफरी मच गई। जिले में दो अलग-अलग जगहों पर तूफान में एक महिला सहित दो लोगों की जान चली गयी। जिला प्रशासन ने भी इस तूफान की तबाही से हुई दोनों मौत की पुष्टि की है। सदर ब्लाक के ग्राम भुगैतापुर में छोटे सिंह के घर पर रखा छप्पर झोपड़ी समेत गिर गई। इससे चारपाई पर सोते वक्त सोनकली मलबे में दब गईं। एक घंटे बाद मलबे से सोनकली को बाहर निकाला जा सका। मगर तब तक उनकी मौत हो चुकी थी। हादसे की जानकारी परिजनों ने पुलिस को दी। पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। परिजनों ने प्रशासन से मुआवजे की गुहार लगाई।

कई मबेशी भी मरे

कोतवाली प्रभारी आमोद कुमार सिंह ने बताया कि पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद आगे की कार्रवाई होगी। राजस्व विभाग को पोस्टमार्टम रिपोर्ट भेजी जाएगा। नियमानुसार मुआवजे की कार्रवाई होगी। नजरापुर में देवेंद्र का टीनशेड उड़ गया जबकि बबलू की दीवार गिर गई। ग्राम रजईमऊ ठकुराइन में दीवार गिरने से राजेश की भैंस व सहजापुर में रहमत अली की पांच बकरियां दबकर मर गईं।

हवा के झोके में उड़े लोग

छत पर सो रही ज्ञानचंद्र की पत्नी पचपन वर्षीय सुखरानी हवा के झोंके से तीसरी मंजिल से पड़ोसी विद्यासागर की छत में जा गिरीं। इससे सुखरानी की मौके पर मौत हो गई। ज्ञानचंद्र की बछिया भी दीवार गिरने से घायल हो गई। इसी गांव के रामेश्वर की साठ वर्षीय पत्नी सूरज मती भी छत पर लेटीं थी। जो चारपाई उठाते समय हवा के झोंके में पड़ोसी नंदलाल के घर में गिरने से लहुलूहान हो गई। गंभीर हालत में परिजनों ने उन्हें जिला अस्पताल में भर्ती कराया।

आंधी-पानी से हुए नुकसान का आंकलन

ग्राम पंचायत अनौगी के बदलेपुर्वा में शिवरतन का सालों पुराना नीम का पेड़ फटकर राजीव शंखवार के मकान पर गिर पड़ा। इसमें उनके दोनों पुत्र बाल-बाल बच गए। आंधी-पानी आने पर वह थोड़ी देर पहले नीचे उतरे थे। वहीं, विश्राम सविता की भैंस व बकरी दब गई। हालांकि ग्रामीणों ने उन्हें सुरक्षित निकाल लिया। तहसीलदार आरके राजवंशी के आदेश पर क्षेत्रीय लेखपालों ने मौके पर पहुंच आंधी-पानी से हुए नुकसान का आंकलन कर रिपोर्ट भेजी है।

कई जगह हुए मार्ग अवरुद्ध

मानीमऊ में तेज आंधी से मानीमऊ-ठठिया मार्ग, मोचीपुर, मियांगंज रोड समेत कई स्थानों पर कई पेड़ टूटकर सड़क पर गिर पड़े। इसके अलावा कई जगह बिजली के पोल टूट गए। इससे मार्ग अवरुद्ध हो गया। इसके बाद वाहन मुख्य मार्ग को छोड़कर गांव की गलियों से होकर निकले। सुबह पेड़ों को काटकर रास्ता साफ किया गया। वहीं, मियांगंज में हरिपाल व जसपुरा सरैया में नौशाद अली की छत पर नीम का पेड़ गिरने से दरारें पड़ गईं। इस बीच बारिश भी हुई।

प्रशासन ने किया अलर्ट जारी

इस तबाही के मंजर के बाद भी अभी और तूफान से तबाही का एलर्ट जारी कर दिया गया है जिसके लिए जिलाधिकारी कन्नौज ने अपने अधीनस्थ अधिकारियों को निर्देश दे दिये है कि वह अपने-अपने क्षेत्रों में एलर्ट के चलते सक्रीय रहें और जैसे ही कोई सूचना मिलती है उनको तत्काल सूचित करें।

Ad Block is Banned