सिर्फ एक फोटो और अगूंठे के निशान से खुल जाएगा बैंक में खाता

आधार, पैन, का झंझट नहीं, एसबीआई की योजना में कुछ शर्तें भी लागू
मिनिमम बैलेंस रखना जरूरी नहीं, ५० हजार से ज्यादा नहीं रख सकते

कानपुर। बैंक में खाता खुलवाने के लिए कई दस्तावेजों की जरूरत रहती है। कम से कम फोटो, पैन, आधार तो जरूरी होता ही है। इनके बिना खाता खुलवाना मुश्किल होता है, पर भारतीय स्टेट बैंक ने बिना दस्तावेजों के भी खाता खोलने की विशेष सुविधा शुरू की है। ये खाता केवल थंब इंप्रेशन और एक फोटो से ही खुल जाएगा। बड़ी संख्या में ऐसे लोग हैं जिनके पास खाता खुलवाने के लिए जरूरी दस्तावेज नहीं होते हैं। ये खाता ऐसे ही लोगों के लिए एसबीआई ने पेश किया है।

इस तरह खुलेगा खाता
अगर आपके पास खाता खोलने के लिए जरूरी दस्तावेज नहीं हैं तो भारतीय स्टेट बैंक आपको इनके बिना भी खाता खुलवाने का मौका दे रही है। एसबीआई में बिना दस्तावेज का खाता खोलने के लिए शाखा अधिकारी के पास जाइए। वहां आपको एक स्वहस्ताक्षरित फोटोग्राफ और अंगूठे का इंप्रेशन जमा करना होगा। इस खाते में आपको मिनिमम बैलेंस रखने का झंझट नहीं है। एसबीआई के अधिकारी आर के मिश्रा ने बताया कि एसबीआई की अन्य बचत खाते की तरह इस एकाउंट पर भी उतना ही ब्याज मिलता है। खाताधारक को बेसिक रूपे एटीएम कम डेबिट कार्ड मुफ्त में मिलेगा। इस खाते में कोई सालाना मेंटीनेंस फीस नहीं है।

ये शर्तें भी लगाई गईं
बिना दस्तावेजों वाले इस खाते को संचालित करने के लिए कुछ शर्तें भी लगाई गई हैं। 18 वर्ष से अधिक उम्र का व्यक्ति इस खाते को खुलवा सकता है। इस खाते में अधिकतम 50 हजार रखे जा सकते हैं, इससे ज्यादा बैलेंस इसमें जमा नहीं होगा। एक हफ्ते में खाते से ट्रांजेक्शन 10 हजार से ज्यादा नहीं होना चाहिए, और एक वित्त वर्ष में एक लाख से ज्यादा का लेनदेन नहीं होना चाहिए। एक माह में खाते से अधिकतम चार बार पैसा निकाला जा सकता है। इसमें एटीएम या अन्य बैंक एटीएम से पैसे निकालना, इंटरनेट बैंकिंग, ब्रान्च, मनी ट्रांसफर आदि शामिल है। खास बात यह है कि ये शर्त तोड़ते ही आपका खाता सीज हो जाएगा और केवाईसी प्रक्रिया पूरी करनी पड़ेगी। सभी दस्तावेज जमा किए बिना खाते का संचालन नहीं किया जा सकता।

जब चाहे निकाल लेंगे पीएफ अंशधारक अपना जमा धन
ईपीएफओ अंशधारकों की सुविधा के लिए नया वेबपेज विकसित कर रहा है। नए सिस्टम की स्टडी रिपोर्ट को हरी झंडी दे दी गई है। अंशधारक मोबाइल और कम्प्यूटर पर पीएफ खाता नेट बैंकिंग की तरह ऑपरेट कर सकेंगे। पीएफ खाते से एडवांस या क्लेम फार्म ऑनलाइन सबमिट करते ही चंद पलों में धन अंशधारक के बैंक खाते में ट्रांसफर हो जाएगा। एडवांस लेने में नियोक्ता और ईपीएफओ कार्यालय से सत्यापन की अनिवार्यता भी खत्म कर दी जाएगी। ईपीएफओ ने देश के सभी 4.50 करोड़ अंशधारकों को खाते से धन निकासी पर लगे बैरियर को खत्म करने की तैयारी शुरू कर दी है।

Show More
आलोक पाण्डेय
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned