scriptAfter Corona, now there is a danger of dengue 21 patients came forward | कोरोना के बाद शहर में अब डेंगू का खतरा मंडराया, 21 मरीज आए सामने, स्वास्थ विभाग से अलर्ट जारी | Patrika News

कोरोना के बाद शहर में अब डेंगू का खतरा मंडराया, 21 मरीज आए सामने, स्वास्थ विभाग से अलर्ट जारी

-कानपुर में अब डेंगू ने दी दस्तक, स्वास्थ विभाग से अलर्ट जारी
-पिछले दस दिनों में डेंगू के 21 मरीज आए सामने, भर्ती

कानपुर

Published: August 13, 2021 01:32:37 pm

पत्रिका न्यूज नेटवर्क
कानपुर. कोरोना के प्रकोप (Covid Crisis) से शहर के लोग अभी उभर नही पाए थे कि अब डेंगू ने पैर (Dengue) पसारने शुरू कर दिए हैं। अभी तक दस दिन में कानपुर में 21 मरीज डेंगू से संक्रमित (Dengue In Kanpur) पाए गए हैं। डेंगू से पीड़ित मरीजों का इलाज अस्पतालों में चल रहा है। इनमें से चार मरीज एलएलआर अस्पताल (LLR Hospital) में, दो मरीज उर्सला में भर्ती हैं। साथ ही 15 मरीज निजी अस्पतालों में भर्ती हैं। कानपुर मेडिकल कालेज (GSVM Medical College) की उप प्राचार्य प्रो. रिचा गिरि ने बताया कि ओपीडी में कुछ मरीज ऐसे आ रहे हैं, जिनमें डेंगू जैसे लक्षण हैं। जांच के लिए उन्हें माइक्रोबायोलाजी विभाग भेजा जा रहा है। मेडिसिन वार्ड में चार संक्रमित भर्ती हैं। अधिकतर में प्लेटलेट्स संख्या कम मिली है।
कोरोना के बाद शहर में अब डेंगू का खतरा मंडराया, 21 मरीज आए सामने, स्वास्थ विभाग से अलर्ट जारी
कोरोना के बाद शहर में अब डेंगू का खतरा मंडराया, 21 मरीज आए सामने, स्वास्थ विभाग से अलर्ट जारी
एंटी लार्वा एवं फागिंग होना है जरूरी

वहीं उर्सला के चिकित्सा अधीक्षक डा. एके सिंह ने बताया कि निजी लैब में दो मरीजों में डेंगू की पुष्टि हुई है, जो भर्ती किए गए हैं। पिछले दो वर्ष से डेंगू के केस न आने पर स्वास्थ्य विभाग विभाग के मलेरिया इकाई द्वारा भी शहरी क्षेत्र में एंटी लार्वा का छिड़काव व फागिंग नहीं कराई गई। इधर बारिश होने से मच्छरों का प्रकोप बढऩे लगा है। घर में या घर के आसपास किसी भी स्थान पर पानी एकत्रित न होने दें। यदि जलभराव है तो मोबिल आयल डालें। पूरी आस्तीन के कपड़े बच्चों को पहनाएं।
इन बातों का रखें विशेष ध्यान

खासतौर पर मच्छरों से बचाव के लिए मच्छरदानी का प्रयोग करें। बुखार आने पर सिर्फ पैरासिटामाल टेबलेट ही लें। किसी प्रकार की दर्द निवारक दवाओं का सेवन न करें। सीएमओ डॉ. नैपाल सिंह ने बताया कि डेंगू और चिकुनगुनिया को लेकर अलर्ट जारी किया गया है। अगर कोई निजी लैब डेंगू की जांच करे और संक्रमित मिले, उसकी सूचना स्वास्थ्य विभाग को जरूर दें। इसी तरह निजी अस्पताल भी अपने यहां भर्ती होने वाले मरीजों की सूचना फार्मेट में भर कर दें। ऐसा नहीं करने वालों के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

बड़ी खबरें

नाइजीरिया के चर्च में कार्यक्रम के दौरान मची भगदड़ से 31 की मौत, कई घायल, मृतकों में ज्यादातर बच्चे शामिल'पीएम मोदी ने बनाया भारत को मजबूत, जवाहरलाल नेहरू से उनकी नहीं की जा सकती तुलना'- कर्नाटक के सीएम बसवराज बोम्मईमहाराष्ट्र में Omicron के B.A.4 वेरिएंट के 5 और B.A.5 के 3 मामले आए सामने, अलर्ट जारीAsia Cup Hockey 2022: सुपर 4 राउंड के अपने पहले मैच में भारत ने जापान को 2-1 से हरायाRBI की रिपोर्ट का दावा - 'आपके पास मौजूद कैश हो सकता है नकली'कुत्ता घुमाने वाले IAS दम्पती के बचाव में उतरीं मेनका गांधी, ट्रांसफर पर नाराजगी जताईDGCA ने इंडिगो पर लगाया 5 लाख रुपए का जुर्माना, विकलांग बच्चे को प्लेन में चढ़ने से रोका थापंजाबः राज्यसभा चुनाव के लिए AAP के प्रत्याशियों की घोषणा, दोनों को मिल चुका पद्म श्री अवार्ड
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.