अजय कुमार लल्लू ने कहा डेंगू बना जानलेवा तो कूड़े के पहाड़ बढ़ा रहे CM के स्मार्ट सिटी की शोभा

प्रदेश अध्यक्ष के साथ कांग्रेसियों ने तिलक हॉल से कमिश्नर कार्यालय तक पद यात्रा निकाली और प्रदेश के सीएम व भाजपा पर कई आरोप लगाते हुए दिया अल्टीमेटम।

By: Vinod Nigam

Published: 03 Dec 2019, 09:10 AM IST

कानपुर। कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष अजय कुमार प्रदेश के सीएम योगी आदित्यनाथ पर तीखा हमला बोला। कहा, सिटी को क्लीन सिटी ग्रीन सिटी के सपने तो बहुत दिखाए गए, लेकिन सपने हकीकत का रूप नहीं ले पा रहे हैं। गड्ढायुक्त रोड्स, सड़कों पर फैली गंदगी, मेन चैराहों पर बैठे आवारा जानवर और एनक्रोचमेंट के जख्म से पूरा शहर कराह रहा है। डेंगू से हरदिन चार से पांच लोगों की मौत हो रही है, तो भाऊपुर स्थित कूड़े के पहाड़ प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के स्वच्छता मिशन के नारों की पोल खोल रहे हैं। यदि सो रही सरकार नहीं जागी तो कांग्रेसी भाजपा नेताओं के घर के बाहर धरना देंगा, आंदोलन करेंगे फिर भी हालात नहीं सुधरे तो संसद और विधानसभा के बाहा आमरण अनशन किया जाएगा।

पैदल मार्च निकाला
कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू सोमवार को कानपुर पहुंचे। वह पार्टी दफ्तर पर पदाधिकारी और कार्यकर्ताओं के साथ बैठक की और तिलकहाॅल से पैदल मार्च निकाला। शहर के कई मोहल्लों से होते हुए मार्च कमिश्नर कार्यालय पहुंचा। यहां पर लल्लू ने कमिश्नर को ज्ञापन देकर सीएम योगी आदित्यनाथ और भाजपा पर जमकर बरसे। कहा, सूबे के सीएम योगी आदित्यनाथ कानपुर आते रहते हैं और लंबे-लंबे भाषण और वादे करते हैं, लेकिन जमीन पर हालात जस के तस बनें हुए हैं। लल्लू ने कहा कि ये सरकार पूरी तरह से फ्लाफ साबित हो रही है और इसे सत्ता में बनें रहने का कोई हक नहीं है।

सबसे प्रदूषित शहर
कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष ने कहा कि कानपुर को स्मार्ट सिटी तो घोषित कर दिया लेकिन कूड़ा साफ नहीं कर पा रहे हैं। कूड़े से गंदगी फैल रही है, प्रदूषण बढ़ रहा है और सांस लेना मुश्किल हो गया है। एनजीटी भी कानपुर में प्रदूषण को लेकर के कई बार चेतावनी जारी कर चुकी है लेकिन सरकार को कुछ सूझ नहीं रहा है। प्रदेश के सीएम योगी आदित्यनाथ और उनके मंत्री व प्यारे अफसरान सिर्फ कागजी घोड़े दौड़ा रहे हैं। जमीन पर हालात बहुत भवायह है। बिल्हौर के दर्जनों गांवों में डूेंगू ने महामारी का रूप धारण कर लिया है। स्वास्थ्य विभाग पूरी तरह से बेपटरी हो गया है।

नारों की खोल रहे पोल
कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष ने कहा कि जिस दिल्ली दरबार से स्वच्छ भारत अभियान के लिए स्वच्छता के नारे देश भर में गूंजे, उसी दिल्ली से कानपुर को आने वालेरास्ते में भाऊसिंह में कूड़े के पहाड़ सरकार की नारों की पोल खोल रहे हैं। इसका असर न केवल हाईवे बल्कि शहर पर भी दिख रहा है। जहां जगह-जगह जमा कूड़ा सड़ांध मार रहा है। दर्जनों गांव बीमार की चपेट में आ गए हैं। लल्लू ने बताया कि कूड़े के कारण आपपास के गांवों में युवकों की शादियां टूट रही हैं। कोई भी लड़की पक्षवाला इन गांवों में अपनी बेटी की शादी नहीं करना चाहता।

भाजपा के जनप्रतिनिधि नहीं ले रहे सुधि
अजय कुमार लल्लू ने कहा कि कानपुर नगर व ग्रामीण और देहात की 14 विधानसभा सीटों में से 10 पर भाजपा का कब्जा है। दो सांसद और तीन मंत्री हैं, फिर भी एशिया का मैनचेस्टर बदहाली के आंसू बहा रहा है। प्रदेश अध्यक्ष ने सीधे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर आरोप लगाते हुए कहा कि 2014 से लेकर 2019 के बीच आद्योगिक नगरी के विकास के लिए एक पैसे का कार्य नहीं कराया गया। नोटबंदी, जीएसटी के कारण सैकड़ों फैक्ट्रियां बंद हो गई। इसकी जवाबदेही भाजपा के जनप्रतिनिधियों की है।

Show More
Vinod Nigam
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned