कानपुर देहात के दुर्गादासपुर घटना में अखिलेश यादव ने ट्विटर पर भाजपा सरकार पर कसे तंज

-भोगनीपुर के दुर्गादासपुर घटना को लेकर अखिलेश यादव ने किया ट्वीट,
-सपा राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश ने योगी सरकार पर कसे तंज,
-प्रकरण में राजनीतिक हलचल हुई तेज,

By: Arvind Kumar Verma

Updated: 18 Jul 2021, 04:39 PM IST

पत्रिका न्यूज नेटवर्क
कानपुर देहात. जिले के भोगनीपुर क्षेत्र में दरोगा द्वारा महिला को खुलेआम पीटने के मामले में एसपी ने दरोगा को लाइन हाजिर किया। हालांकि इस प्रकरण में राजनीतिक हलचल भी शुरू हो गई है। समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव (Akhilesh Yadav) ने ट्वीटर (Akhilesh Yadav Tweet) पर सूबे की भाजपा सरकार (BJP Government UP) पर तंज कसे। उन्होंने ट्विटर पर लिखा 'भाजपा के शासन में दुशासन की कमी नहीं, घोर निंदनीय' है। वहीं सपाइयों ने भी पीड़िता को न्याय न मिलने पर आंदोलन करने की बात कही है। वहीं एसपी ने दरोगा को लाइन हाजिर कर भोगनीपुर सीओ को जांच सौंपी है।

ये था पूरा घटनाक्रम

कानपुर देहात के भोगनीपुर कोतवाली क्षेत्र के दुर्गदासपुर गांव में 7 जून को वीरेंद्र सिंह के घर में लूट की घटना हुई थी। घटना में पीड़ित ने सुरजीत सिंह व दो अन्य के खिलाफ रिपोर्ट लिखाई थी। वीरेंद्र के भाई राजबाबू ने चौकी इंचार्ज पुखरायां महेंद्र सिंह को सुरजीत के गांव आने की सूचना दी। इस पर दरोगा गांव के लिए निकल पड़े। तभी रास्ते में जुआरियों को देख दारोगा ने जीप रोकी तो जुआरी भाग गए। इस बीच दारोगा ने वहां खड़े शिवम यादव को पकड़कर जीप में बिठा लिया। यह देख शिवम की मां सहित अन्य महिलायें विरोध करने लगीं। आरोप है कि दारोगा ने शिवम की मां अनीता को गिराकर पीटा और अभद्रता की।

दरोगा व महिला ने लगाए आरोप

वहीं महिला का आरोप है कि दारोगा उनके परिवार से रुपये की मांग कर रहे थे। पैसे न देने पर दरोगा ने शिवम को पकड़ लिया था। विरोध करने पर मारपीट की। उधर दारोगा का कहना है कि शिवम पंचायत चुनाव में 26 अप्रैल को गांव में अपने पक्ष के प्रत्याशी को वोट देने के लिए ग्रामीण पर दबाव बना रहा था। इससे रोकने पर वह झूठे मामले में फंसाने की धमकी देकर भाग गया था। जिसके बाद उसे पाबंद कराने के लिए एसडीएम न्यायालय में चालानी रिपोर्ट भेजी थी। बताया कि जुआ में खड़े शिवम को पकड़ने पर उसकी मां अनीता व पत्नी आरती समेत महिलाओं ने पुलिस टीम पर हमला कर उसे छुड़ा लिया। एसपी केशव कुमार चौधरी ने कहा कि वीडियो में दिख रहा है। महिला के वर्दी पकडऩे में दारोगा गिर गया। जांच कराकर कार्रवाई की जाएगी।

सपा राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव ने किया ट्वीट

इधर इस प्रकरण में महिला उत्पीडऩ को लेकर समाजवादी पार्टी ने विरोध करना शुरू कर दिया है। सपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव ने ट्विटर पर कहा कि उप्र में भाजपा सरकार के कृपापात्र बने कुछ पुलिस कर्मियों के दुर्व्यवहार से प्रदेश की समस्त पुलिस की छवि धूमिल होती है। भाजपा के शासन में दुशासन की कमी नहीं। घोर निंदनीय। फिलहाल मामले में राजनीतिक हलचल तेज हो गई है। वहीं समाजवादी पार्टी कानपुर देहात के जिलाध्यक्ष प्रमोद यादव, पूर्व जिलाध्यक्ष वीरसेन यादव व सपा के भोगनीपुर विधानसभा क्षेत्र प्रभारी नरेंद्रपाल सिंह मनु ने इस घटना की निंदा की है। उन्होंने एसपी केके चौधरी से दारोगा पर कार्रवाई की मांग कर कहा कि महिलाओं पर अत्याचार न रुका तो धरना दिया जाएगा।

Arvind Kumar Verma
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned