लॉकडाउन को लेकर कानपुर में बड़ा फैसला: अब नहीं लगेगी रामादेवी सब्जी मंडी

रामादेवी हाईवे पर सब्जीमंडी से लगने वाले भीषण जाम के चलते लिया फैसला
खबर को देख अधिकारियों ने लिया संज्ञान, जांच के बाद आदेश शनिवार से लागू
केवल गली-मोहल्लों में जाकर बेचने का आदेश, आदेश के उल्लंघन पर होगी कार्रवाई

कानपुर। लॉकडाउन के बावजूद लोगों में दिख रही लापरवाही का नतीजा यह हुआ कि अफसरों को सख्ती करनी पड़ गई। इसी सिलसिले में अफसरों ने फैसला किया है कि अब शहर की बड़ी मंडियां नहीं लगेंगी। यह आदेश शनिवार से लागू हो जाएगा। जिसके बाद केवल छोटी मंडियां ही लग सकेंगी और वह भी सीमित समय के लिए। इसके अलावा लोगों को दरवाजे पर ही सब्जी मिल पाएगी। इस आदेश को कड़ाई से लागू करने के लिए अफसरों ने बैठक कर जिम्मेदारियां बांट दी हैं। शनिवार से यह आदेश लागू हो जाएगा।

इस कारण मजबूर हुआ प्रशासन
लॉकडाउन के दौरान खरीदारी की छूट मिलने पर शहर के कई इलाकों में सोशल डिस्टेंसिंग की धज्जियां उड़ रही थीं। दुकानों के काउंटर पर लोग पहले की तरह भीड़ बढ़ाने लगे। हालांकि दुकानदारों ने सोशल डिस्टेंसिंग के लिए अपनी दुकानों के बाहर एक-एक मीटर की दूरी पर गोले बनाए और उसी आधार पर बारी-बारी खरीदारी करने वालों को ही सामान दिया। मगर दूसरी ओर सब्जी मंडियों में यह नियम लागू नहीं हो पाया। मंडियां खुलते ही सब्जी खरीदने के दौरान लोग सावधानी भूल रहे हैं। इस कारण प्रशासन को यह रुख अख्तियार करना पड़ा।

बढ़ रहा संक्रमण का खतरा
भले ही कानपुर में अभी तक कोरोना का एक ही संक्रमित मरीज मिला हो, लेकिन इस बात की पुष्टि नहीं की जा सकती है कि अन्य लोग भी कोरोना से संक्रमित नहीं है। ऐसे में अगर संक्रमित व्यक्ति भीड़ का हिस्सा बनता है तो कुछ ही दिनों में यह महामारी पूरे कानपुर को अपनी चपेट में ले लेगी। इसलिए संक्रमित व्यक्ति के सामने आने के लिए २१ दिन तक लॉकडाउन का कड़ाई से पालन होना जरूरी है, ताकि दूसरों को संक्रमण से बचाया जा सके।

रामादेवी में जाम बना खतरा
सब्जी मंडियों में जुटने वाली भीड़ को लेकर प्रशासन पहले ही चिंता में था, दूसरी तरफ रामादेवी हाईवे पर सब्जीमंडी से लगने वाले भीषण जाम के चलते प्रशासन को सोचने पर मजबूर होना पड़ा। काफी माथापच्ची के बाद अधिकारियों ने तय किया कि शहर की सभी बड़ी मंडिया बंद कर दी जाएंगी और उन्हें बिल्कुल भी खोलने की अनुमति नहीं दी जाएगी। इसके बदले ठेले वाले गली-गली जाकर सब्जियां बेच सकेंगे।

Show More
आलोक पाण्डेय Desk/Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned