मतदान से पहले अमित शाह ने यहां लगाई चौपाल, 10 सीटों पर जीत के लिए तैयार हो रहा प्लाॅन

Vinod Nigam

Publish: Apr, 13 2019 08:00:04 PM (IST)

Kanpur, Kanpur, Uttar Pradesh, India

कानपुर। समाजवादी पार्टी और बसपा के बीच गठबंधन के बाद भाजपा यूपी में एड़ी-चोटी का जोर लगाए हुए है। इसी के चलते शनिवार की शाम करीब 5 बजकर भाजपा के राष्ट्रय अध्यक्ष अमित शाह का हेलीकाप्टर कानपुर के पुलिस लाइन में उतरगा। उनका काफिला सड़क मार्ग के जरिए लैंडमार्क होटल पहुंचा। यहां अमित शाह कानपुर-बुंदेलखंड की 10 सीटों के पदाधिकारियों के अलावा उम्मीदवारों के साथ बैठक कर वर्तमान स्थित का आकलन के साथ ही कमल खिलाए जाने का गुरूमंत्र दे रहे हैं। इस दौरान उनके साथ सीएम योगी आदित्यनाथ ने प्रदेश अध्यक्ष महेंद्र नाथ पांडेय भी मौजूद हैं।

पुलिस लाइन में उतरे अमित शाह
राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह शनिवार शाम 5 बजे हवाई मार्ग से पुलिस लाइन स्थित हेलीपैड पर उतरेंगे। इसके बाद सिविल लाइन्स स्थित होटल पहुंचें। यहां उन्होंने प्रदेश के मुख्यमंत्री सीएम योगी आदित्यनाथ के अलावा प्रदेश अध्यक्ष महेंद्र नाथ पांडेय व यूपी प्रभारी जेपी नड्डा के साथ कानपुर-बुंदेलखंड के 17 जिलों की 10 लोकसभा सीटों संयोजक, प्रभारी, जिलाध्यक्ष और जिला संयोजकों के साथ बैठक कर रहे हैं। इस दौरान राष्ट्रीय अध्यक्ष एक-एक सीट की मजबूती और कमजोरी आंकने के साथ ही वह हर सीट पर जीत के लिए रणनीति भी पार्टी पदाधिकारियों को समझाएंगे।

80 पदाधिकारी मौजूद
बैठक में करीब करीब 80 से ज्यादा भाजपा के पदाधिकारी मौजूद हैं। जिसमें चुनाव की रणनीति पर चर्चा होगी। किस सीट को कैसे जीतना है, कौन-कौन से तरीके अपनाए जाने हैं, कहां किस मुद्दे को हवा देनी है, इन सभी पर मंथन होने की संभावना है। क्षेत्रीय इकाई के अध्यक्ष भी इस बैठक में विशेष भूमिका में होंगे। पार्टी की बैठक की तैयारी को लेकर सुबह से स्थानीय स्तर पर पदाधिकारियों की बैठकें चलीं। नगर अध्यक्ष ने बताया कि कानपुर-बंुदेलखंड परिक्षेत्र में आनें वाले 17 जिलों के सभी पदाधिकारी आ चुके हैं और होटल में बैठक चल रही है।

सीएम के साथ प्रदेश अध्यक्ष मौजूद
अमित शाह के बैठक में भाग लेने के लिए प्रदेश अध्यक्ष महेंद्र नाथ पांडेय और सीएम योगी आदित्यनाथ भी कानपुर के लैंडमार्क होटल पहुंचे। साथ ही जेपी नड्डा और मंत्री सतीश महाना, सत्यदेव पचैरी, देवेंद्र सिंह भोले, मेयर प्रमिला पांडेय के साथ अन्य मंत्री,सांसद, विधायक भी एक-एक कर होटल पहुंच रहे हैं। प्रदेश अध्यक्ष महेंद्र नाथ पांडेय ने मीडिया से बातचीत के दौरान कहा कि ये चुनाव को लेकर राष्ट्रीय अध्यक्ष की समीक्षा बैठक है। जिसमें पार्टी अपने कई मुद्दों पर चर्चा करेगी।

खुशबी की नगरी पर नजर
अमित शाह के एजेंडे में खुशबू की नगरी कन्नौज है। इसी के चलते भाजपा उम्मीदवार के अलावा संगठन के सभी पदाधिकारी लैंडमार्क होटल में पहुंच चुके है। 2014 के लोकसभा चुनाव में कन्नौज सीट काफी मशक्कत के बाद एसपी के खाते में आई थी। यहां से डिंपल यादव ने महज 19 हजार 907 वोटों के अंतर से जीत हासिल की थी। यहां से भाजपा के उम्मीदवार सुब्रत पाठक 469257 लाख मत पाकर दूसरे स्थान पर रहे थे। 2019 में भी मुकाबला इन्हीं दोनों के बीच माना जा रहा है। बता दें कि बीजेपी ने इस सीट से आखिरी मुकाबला 1996 में जीता था। यहां से चंद्र भूषण सिंह उर्फ मुन्नू बाबू ने एसपी उम्मीदवार छोटे लाल यादव को शिकस्त दी थी।

पाठा का संगठन भी मौजूद
बीजेपी ने बांदा-चित्रकूट सीट से वर्तमान सांसद भैरोसिंह प्रसाद मिश्रा का टिकट काट विधायक आरके पटेल को उम्मीदवार बना दिया। टिकट कटने के चलते वो बीजेपी कार्यालय में ही अनशन पर बैठ गए थे। उन्होंने आरोप लगाया था कि पार्टी ने उनके अच्छे रिपोर्ट कार्ड के बाद भी टिकट नहीं दिया। जिसके कारण वो ब्राम्हण वोटर्स को साध कर पार्टी के खिलाफ बगावत पर उतर आए हैं। भाजपा हर हाल में यहां की सभी सीटों पर कमल खिलानें के लिए अभियान चला रखा है। पाठा के सभी पदाधिकारियों को बैठक में बुलाया गया है।

खबरें और लेख पड़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते है । हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते है ।
OK
Ad Block is Banned