नही थम रहा छात्राओं का गुस्सा, पहुंच गई जिले के आला अफसरों के कार्यालय, इस मांग को लेकर अड़ी रहीं छात्राएं

फिर पीड़ित छात्राएं प्रबंधक की गिरफ्तारी की मांग करते हुए एसपी कार्यालय पहुंचकर धरने पर बैठ गयी।

By: Arvind Kumar Verma

Published: 03 Mar 2019, 03:58 PM IST

कानपुर देहात-जिले के भोगनीपुर स्थित यशोदा कुंवर यादव महिला महाविद्यालय में छात्राओं को फर्जी प्रवेश देने के मामले में छात्राओं का गुस्सा थम नही रहा है। अब पीड़ित छात्राएं प्रबंधक की गिरफ्तारी की मांग करते हुए एसपी कार्यालय पहुंचकर धरने पर बैठ गयी। जहां सूचना पर मौके पर पहुंचे पुलिस क्षेत्राधिकारी अकबरपुर ने धरने पर बैठी छात्राओं को कार्रवाई का आश्वासन दिया। फिर भी छात्राएं संतुष्ट नही हुई तो वे वहां से उठाकर डीएम कार्यालय पहुंच गयी। जहां एडीएम को अपनी समस्या से अवगत कराते हुए महाविद्यालय प्रबंधक के खिलाफ कार्रवाई कर न्याय दिलाने की गुहार लगायी है।

 

कानपुर देहात के यशोदा कुंवर यादव महाविधालय में बीते दिनों परीक्षा के लिए छात्राओं को फर्जी प्रवेश पत्र दिया गया था। इस पर छात्राओं ने थाने से लेकर एसडीएम कार्यालय में हंगामा काटा। हालांकि प्रबंधक के खिलाफ मुकदमा दर्ज होने के बाद छात्राएं गिरफ्तारी की मांग को लेकर एसपी कार्यालय में धरने पर बैठ गयी। जहां छात्राओं ने भविष्य के साथ खिलवाड़ करने वाले महाविद्यालय प्रबंधक की गिरफ्तारी व हर्जाना दिलाए जाने की मांग की। वहीं मौके पर पहुंचे सीओ अर्पित कपूर ने छात्राओं को समझाया कि उनकी तहरीर पर प्रबंधक के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया जा चुका है।

 

मामले में पुलिस जांच कर रही है। उसके बाद गिरफ्तारी भी की जाएगी, लेकिन छात्राएं गिरफ्तारी की मांग पर अड़ी रही। किसी तरह समझा बुझाकर छात्राओं को वापस भेजा गया। इस दौरान छात्राएं डीएम कार्यालय पहुंच गयी। एडीएम प्रशासन पंकज वर्मा को मामले की जानकारी देते हुए बताया कि सभी छात्राएं गरीब तबके की है। किसी तरह कालेज में प्रवेश लिया। साल भर पढ़ाई कर खर्च वहन किया, लेकिन परीक्षा के समय उनके भविष्य के साथ खिलवाड़ किया गया। न्याय दिलाए जाने के साथ ही छात्राओं की पढ़ाई पर हुए खर्च की प्रतिपूर्ति भी करायी जाएं। फिलहाल इस दौरान 14 छात्राएं मौजूद रही, जो अपनी मांगो को लेकर देर समय तक अडी रही।

Arvind Kumar Verma
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned