जब यहां मवेशियों के झुंड ने रोका मुख्तार का काफिला, सुरक्षा बलों में दिखाई दी चौकसी

मवेशियों के झुंड ने पुलिस के काफिले को रोक दिया। मवेशी इतनी संख्या में थे कि सुरक्षाकर्मी चौकन्ना हो गए।

By: Arvind Kumar Verma

Published: 07 Apr 2021, 02:05 PM IST

पत्रिका न्यूज नेटवर्क
कानपुर देहात. भारी सुरक्षा के साथ मुख्तार (Mukhtar Ansari) को बांदा जेल (Banda Jail) ले जाया जा रहा था। देर रात सुरक्षा कर्मियों में उस समय आशंका की सुई घूम गई। जब काफिला (Mukhtar Ansari Kafila) रात को करीब एक बजे कानपुर देहात के भोगनीपुर के सट्टी थाना के समीप पहुंचा। जहां मवेशियों के झुंड ने पुलिस के काफिले को रोक दिया। मवेशी इतनी संख्या में थे कि सुरक्षाकर्मी चौकन्ना हो गए। किसी तरह गाड़ियों को धीरे-धीरे रफ्तार से झुंड को पार करते हुए आगे बढ़ाया गया। इस दौरान काफिला करें तीन मिनट के लिए रुका रहा। मगर सुरक्षा के मद्देनजर पुलिस मुस्तैद रही।

मुख्तार अंसारी (Mafiya Mukhtar Ansari) के आने की पल पल की खबर लेते हुए कानपुर देहात पुलिस रात भर सक्रिय रही। वहीं जब पुलिस का काफिला रात को सिकंदरा कस्बे के सूर्या ढाबे से होते हुए गुजरा। माफिया मुख्तार को लेकर जा रही एंबुलेंस के चारों ओर बड़ी संख्या में पुलिस की गाड़ियां थीं। इस दौरान कुछ लोगों ने मोबाइल से वीडियो बनाना शुरू किया तो कस्बे में तैनात पुलिस ने उन्हें डांटकर फटकार भगा दिया।

बाहुबली विधायक मुख्तार अंसारी (Bahubali Vidhayak Mukhtar Ansari) की आमद को लेकर बांदा जेल के साथ-साथ आसपास के इलाके में भी सुरक्षा व्यवस्था के पुख्ता इंतजाम किए गए हैं। कोई परिंदा भी पर नहीं मार सकता है। जेल के बाहर चारों तरफ स्थित इलाके पर पुलिस का सख्त पहरा है। सड़क किनारे पहले गेट से लेकर जेल के मुख्य गेट तक त्रिस्तरीय बैरिकेडिंग की गई है। जेल के मुख्य गेट के बाहर स्थित पुलिस चौकी में एक दरोगा और दस कांस्टेबल अतिरिक्त तैनात किए गए हैं। एएसपी महेंद्र प्रताप चौहान ने बताया कि जेल की बाउंड्री में लगातार पिकेट ड्यूटी और गश्त होगी। इसमें एक प्लाटून पीएसी के 25 जवान तैनात किए गए हैं।

Arvind Kumar Verma
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned