कानपुर में एक और बड़ा फर्जीवाड़ा, एसआईटी की जांच में खुलासा

- अदालत में फर्जी दस्तावेज लगाकर खुली हवा में घूम रहा हैं 100 से ज्यादा गैंगस्टर अभियुक्त

- एसआईटी की जांच में खुलासा

By: Narendra Awasthi

Published: 24 Dec 2020, 01:12 PM IST

कानपुर. एक सैकड़ा से अधिक गैंगेस्टर फर्जी दस्तावेजों के आधार पर अदालत से जमानत लेकर खुली हवा में सांस ले रहे हैं। लेकिन पुलिस महकमे की सांस फूल रही है। एसआईटी की जांच में यह खुलासा हुआ है। इस संबंध में एसपी वेस्ट ने बताया कि जमानत घूम रहे कई गैंगस्टर के साथ जमानत दारों को भी गिरफ्तार किया गया है। जमानत पर घूम रहे अन्य गैंगस्टर की गिरफ्तारी के लिए अदालत से एनबीडब्ल्यू प्राप्त हुआ है।

 

अदालत में फर्जी कागजात लगाकर जमानत लेने का मामला

कानपुर में फर्जी कागजों के आधार पर बड़ी संख्या में गैंगस्टर के जमानत लेने का मामला सामने आया है। जिसमें 102 गैंगस्टर्स ने जमानत ली है। इनमें अधिकांश फर्जी बैंक पासबुक, फर्जी प्रॉपर्टी के कागज लगाकर खुली हवा में सांस ले रहे हैं। इस संबंध में एसपी वेस्ट डॉ. अनिल कुमार ने बताया कि न्यायालय के संज्ञान में फर्जी दस्तावेज लगाकर गैंगस्टर में निरूद्ध अभियुक्तों ने जमानत लेने का मामला आया था। न्यायालय के आदेश पर 73 के खिलाफ नामजद अभियोग पंजीकृत किया गया था। अब तक की विवेचना में कुल 102 लोगों के नाम प्रकाश में आए हैं।

40 आरोपियों की गिरफ्तारी

इसमें से 40 आरोपियों की गिरफ्तारी हो चुकी है। जिसमें 31 गैंगस्टर के अभियुक्त और नौ फर्जी जमानतदार हैं। शेष 46 के खिलाफ अदालत द्वारा एनबीडब्ल्यू जारी किया गया है। इनमें से 3 आरोपी हाजिर हो चुके हैं। शेष 43 जिनमें 34 गैंगस्टर और 9 फर्जी जमानतदार है के विरुद्ध एनबीडब्ल्यू नोटिस तामिल कराया जाएगा। इसके बाद इनके ऊपर इनाम की घोषणा करके आगे की कार्रवाई की जाएगी। एक सवाल के जवाब में उन्होंने कहा कि फर्जी दस्तावेजों के आधार पर जमानत कराने वाले गिरोह के संबंध में ही एक इंस्पेक्टर व 6 सब इंस्पेक्टर के नेतृत्व में एसआईटी का गठन किया गया था। जांच रिपोर्ट आने के बाद आगे की कार्रवाई की जाएगी।

Show More
Narendra Awasthi
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned