शंख घंटी व थाली की आवाजो से गूंज उठा इलाका, खास थी इसकी वजह, आप भी जानिये

चारो तरफ शंख व थाली घंटी की आवाज़ गूंज उठी।

कानपुर देहात-आज शाम पांच बजे प्रधानमंत्री के आवाह्न का ऐसा असर दिखा कि समूचा देश शंख, घंटी, थाली व ताली की आवाज से गूंज उठा। दरअसल देश में आया कोरोना वायरस के संकट को लेकर आम जनमानस से लेकर केंद्र व प्रदेश सरकारें चिंतित हो उठी। यहां तक कि विश्व के कई देशों में इस वायरस को लेकर भूचाल सा आ गया। चीन व इटली सहित डेढ़ सैकड़ा से अधिक देश इसकी चपेट में आने से इसका भय लोगों के जेहन में घर कर गया। इसके चलते भारत के प्रधानमंत्री नरेन्द मोदी ने बीते सप्ताह 22 मार्च हो 14 घंटे का जनता कर्फ्यू लगाने की अपील देशवासियों से की। जिससे मानव से मानव से इस वायरस की जुड़ी श्रृंखला टूटने से इसका प्रकोप खत्म हो सके। इसके लिए लोगों को कहीं बाहर न जाकर घरों में ही रहना होगा।

वहीं उन्होंने अपील में कहा था कि शाम 5 बजे लोग घरों से बाहर आकर शंख, घंटी, थाली व ताली बजाकर एक दूसरे का अभिवादन कर इस वायरस से जंग लड़ने में पूर्ण समर्थन करेंगे। देखा जाए तो इस अपील का कानपुर देहात में व्यापक असर सुबह से लेकर शाम पांच बजे तक देखने को मिला। लोगों ने अपील के मुताबिक पूरे दिन घर में बंद रहकर शाम 5 बजे ठीक वैसा ही किया। इस दौरान ऐसा लगा मानो हर घर में मंदिर हो और उसमें ईश्वर की आराधना चल रही हो। फिलहाल अपने प्रधानमंत्री के एक आवाह्न पर जनता का पूर्ण समर्थन दिखाई दिया। शाम के समय चारो तरफ शंख व थाली घंटी की आवाज़ गूंज उठी। इस ऐतिहासिक अपील को देखकर लोग ईश्वर का नाम लेकर जय जयकार कर उठे। पूरा देश इस आवाज़ से गूंज गया।

Arvind Kumar Verma
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned