लड़कियों के चलते बदला चोला, आर्मी का कमांडों बन लाखों रुपए ऐंठा

लड़कियों के चलते बदला चोला, आर्मी का कमांडों बन लाखों रुपए ऐंठा
fake Army officer

Shatrudhan Gupta | Updated: 28 Nov 2017, 07:53:33 PM (IST) Lucknow, Uttar Pradesh, India

आर्मी इंटेलिजेन्स ने दो युवकों की सूचना पर कलेक्टर गंज थानाक्षेत्र स्थित एक होटल से बावर्दी संदिग्ध को धर दबोचा।

कानपुर. आर्मी इंटेलिजेन्स ने दो युवकों की सूचना पर कलेक्टर गंज थानाक्षेत्र स्थित एक होटल से बावर्दी संदिग्ध को धर दबोचा। आरोपी के पास से कई दस्तावेज और आपत्तिजनक वीडियो भी मिले हैं। आर्मी के अफसर संदिग्ध के साथ पूछताछ कर रहे हैं। आरोपी ने बताया कि वह मैट्रिमोनियल साइट्स पर सेना की वर्दी में फोटो डालता था। अपनी डिटेल्स में वह आर्मी में कमांडो के रूप में खुद को बताता था। इसके बाद लड़कियों के रिश्ते आते थे। इनसे प्यार का झांसा देकर रुपए ऐंठता था। साथ ही ग्रामीण इलकों में जाकर बेरोजगार युवकों को सेना में भर्ती करवाने के नाम पर रूपए ऐंठता था। फ़िलहाल सेना आरोपी को हिरासत में लेकर पूछताछ कर रही है। साथ ही ये भी पता लगाने की कोशिश की जा रही है कि आरोपी के तार कहीं देश विरोधी गतिविधियों में तो नहीं जुड़े है।

होटल से आर्मी इंटेलिजेंस ने दबोचा

थाना कलक्टर गंज अंतर्गत गैंजेस होटल में संदिग्ध मिलिट्री के अधिकारी के ठहरे होने की सूचना पर आर्मी इंटेलिजेंस के अधिकारियों ने छापा मारकर उसे अरेस्ट कर लिया। आर्मी को इसके पास से भारी संख्या में फर्जी आईडीए मुहरें और सेना से जुड़े कई दस्तावेज मिले। सेना के अफसर आरोपी को लेकर थाने पहुंची और उसके साथ पूछताछ शुरू की। आरोपी ने अपना नाम विवेक कुमार निवासी चम्पारण बिहार बताया। पूछताछ के दौरान संदिग्ध ने कई राज उलगे। बताया, उसने एफबी सहित अन्य सोशल साइड पर फर्जी आईडी बनाकर अपने को सेना का कमांडर बता लड़कियों को फंसाता था और शादी का झांसा देकर उनसे पैसे ऐंठता था। आरोपी ने बताया कि इस दौरान उसकी दो युवकों से मुलाकात हुई और फिर बेरोजगार युवकों को नौकरी के नाम पर ठगने लगा।

ठगी के शिकार युवकों ने आर्मी से की शिकायत

जलसाज की ठगी के शिकार युवकों ने फर्जी कमांडों की जानकारी आर्मी इंटीलिजेंस को दी। पीड़ित युवक ने बताया कि विवेक कुमार राय जो कि बिहार के चम्पारण जिले का रहने वाला था । वो अपने आपको मिलिट्री कैप्टन बताता था। सेना में नौकरी लगवाने के नाम पर हज़ारो´ रुपए उनसे ऐंठ लिए थे। हम जब भी उससे पैसे वापस करने की बात करते तो वो हमें जल्द से जल्द ज्वाइनिंग का आश्वासन देकर टहला रहा था। हमने जब इसके बारे में आर्मी इंटीलिजेंस के अफसरों से जानकारी की तो वहां से हमें इसकी हकीकत पता चली। आर्मी के अफसरों ने हमारी शिकायत पर होटल गैंजेस पर छापा मार रूम नंबर 304 से फर्जी कैप्टन वी के राय को गिरफ्तार कर लिया।

कई लड़कियों को बना चुका है शिकार

पूछताछ के दौरान आरोपी ने बताया कि वह बेरोजगार युवकों के साथ ही कई लड़कियों को अपना शिकार बना चुका है। इसके पास से बैंक की पासबुकए एटीएम कार्डए सेना के आईकार्डए जूतेए कपड़ेए पहचानपत्र सहित कई दस्तावेज बरामद हुए हैं। कलक्टर गंज इलाके के होटल गैंजेस में कथित फर्जी कैप्टन वीके राय पिछले एक साल में कई बार आकर रुका। इस दौरान होटल में कई बार इसकी महिला मित्र भी मिलने आई थी। होटल मैनेजर के अनुसार उसका काम केवल आईडी लेकर रूम देना होता है वो किया इसके बाद कौन क्या करता है वो क्या जाने। आज आर्मी वाले आए और जांच पड़ताल कर युवक को पकड़ ले गए।

देश विरोधी गतिविधि पर की जा रही पूछताछ

एसपी आर्या ने बताया कि गिरफ्तार युवक के पास से मिलिट्री रिक्रूटमेंट बोर्ड की मुहर लगे कई दस्तावेजों के साथ फर्जी मोहरे और कई आईडी कार्ड्स बरामद हुए है। गिरफ्तार युवक लोगों को मिलिट्री में नौकरी देने के नाम से ठगी करता था। इसके गैंग में दो से तीन लोग और है, जो दिल्ली में नौकरी करते हैं। उनकी गिरफ्तारी के लिए टीम भेजी जा रही है। फ़िलहाल सेना आरोपी को हिरासत में लेकर पूछताछ कर रही है। साथ ही ये भी पता लगाने की कोशिश की जा रही है कि आरोपी के तार कहीं देश विरोधी गतिविधियों में तो नहीं जुड़े है। संदिग्ध आर्मी के साथ पुलिस को पूछताछ के दौरान गुमराह कर रहा है।

Show More
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned