समन तामील कराने गए सिपाहियों पर हुआ हमला, वर्दी फाड़ दौड़ाकर की पिटाई

सिपाहियों ने किसी तरह से वहां से भागकर अपनी जान बचाई। इसके बाद सिपाहियों ने घटना की पूरी दास्तां बता थाने में सूचना दी।

By: Arvind Kumar Verma

Updated: 23 Feb 2021, 11:48 PM IST

कानपुर. दबंगों के घर समन कराने के दौरान पिता पुत्र सहित उनके साथियों ने सिपाहियों के साथ जमकर मारपीट की। यहां तक कि लोगों ने सिपाहियों की वर्दी फाड़ उनके साथ अभद्रता भी की। मामले को भांपते हुए सिपाहियों ने किसी तरह से वहां से भागकर अपनी जान बचाई। इसके बाद सिपाहियों ने घटना की पूरी दास्तां बता थाने में सूचना दी। इसके बाद पीड़ित सिपाही की तहरीर पर पुलिस ने पिता-पुत्रों समेत दस के खिलाफ गंभीर धाराओं में रिपोर्ट दर्ज की है।

पूरा मामला कानपुर के कर्नलगंज थाने का है, जहां थाने के सिपाही छोटेलाल के मुताबिक सोमवार को एसीएमएम तृतीय के वहां से कर्नलगंज निवासी इरशाद के नाम पर वाहन का चालान न छुड़ाने पर समन जारी हुआ था। इसके चलते छोटेलाल हमराही राहुल वर्मा के साथ समन तामील कराने इरशाद के घर गए थे। छोटेलाल ने इरशाद से समन तामील करने को कहा तो उसने अपने पिता अंसार, भाई हसन के साथ मिलकर गाली गलौज शुरू कर दी। आरोप है कि उन्होंने शोर मचाते हुए अपने आठ-दस साथियों को भी बुला लिया। इससे पहले कि दोनों सिपाही उनके इरादे समझ पाते आरोपितों ने उन पर हमला बोल दिया। आरोपितों ने उन्हें दौड़ा-दौड़ाकर पीटा और वर्दी फाड़ दी।

पुलिस से मारपीट होती देख भीड़ में शामिल कुछ लोग तो भाग निकले। किसी तरह जान बचाकर भागे सिपाही थाने पहुंचे और इंस्पेक्टर प्रभुकांत से आपबीती बताई। जानकारी पाकर इंस्पेक्टर प्रभुकांत फोर्स लेकर दबंगों के घर पहुंचे तब तक आरोपित घर में ताला डालकर भाग निकले। इसके बाद सिपाहियों का मेडिकल कराया गया। इंस्पेक्टर ने उच्चाधिकारियों को जानकारी देते हुए घायल सिपाही छोटेलाल की तहरीर पर आरोपितों के खिलाफ गाली गलौज, मारपीट, धमकी, सरकारी कार्य में बाधा डालने समेत अन्य गंभीर धाराओं में रिपोर्ट दर्ज की है।

Arvind Kumar Verma
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned