ट्रेन में मिला नोटों से भरा बैग, रुपए गिनने में लग गये कई घंटे

नई दिल्ली से जयनगर (बिहार) जा रही स्वतंत्रता संग्राम सेनानी कोविड स्पेशल एक्सप्रेस में लाल रंग का एक लावारिस बैग मिला, जिसमें दो-दो हजार और पांच-पांच सौ के नोटों की गड्डियां भरी थीं

By: Hariom Dwivedi

Updated: 17 Feb 2021, 02:37 PM IST

पत्रिका न्यूज नेटवर्क
कानपुर. नई दिल्ली से जयनगर (बिहार) जा रही स्वतंत्रता संग्राम सेनानी एक्सप्रेस में लाल रंग का एक लावारिस बैग मिला। स्कैनिंग के बाद जैसे ही बैग खुला, अफसरों के होश उड़े गये। ट्रॉली बैग में नोटें इस कदर ठसाठस भरी थीं कि गिनने में रात के 12:15 बज गये। जीआरपी और रेलवे प्रशासन के अफसरों की मौजूदगी में घंटों तक हुई गिनती में पता चला कि बैग में कुल एक करोड़ 40 लाख रुपये भरे थे। बैग में भरे नोट दो-दो हजार के और पांच-पांच सौ के थे। खबर लिखे जाने तक बैग पर किसी ने भी दावा पेश नहीं किया है। आशंका जताई जा रही है कि ये रुपये पंचायत चुनाव में खपाने के लिए जाए जा रहे थे। हवाला के भी रुपये होने से इनकार नहीं किया जा सकता। रेलवे ने इनकम टैक्स विभाग के अधिकारियों को सूचना दे दी है।

स्वतंत्रता संग्राम सेनानी कोविड स्पेशल ट्रेन नई दिल्ली से सोमवार रात 9:15 पर चली और देर रात 2:51 पर कानपुर सेंट्रल पहुंची। इसी दौरान पैंट्रीकार के कर्मचारियों ने रेलवे अफसरों को ट्रेन में लाल रंग का ट्रॉली बैग पड़े होने की सूचना दी। एकबारगी दहशत का माहौल छा गया। सूचना पर जीआरपी और आरपीएफ की टीम मौके पर पहुंची और स्कैनिंग करने के बाद जीआरपी ने बैग को अपने कब्जे में ले लिया। 19 मिनट बाद रात 3:10 पर ट्रेन को जयनगर के लिए रवाना किया गया। मंगलवार को काफी देर तक मामला दबाये रखा गया। मंगलवार शाम को मामला खुला तो जीआरपी और रेलवे प्रशासन के अफसरों की मौजूदगी में नोटों की गिनती की गई। ट्रॉली बैग से कुल एक करोड़ 40 लाख रुपये बरामद हुए।

क्या बोले अफसर
डिप्टी सीटीएम, हिमांशु कुमार उपाध्याय ने बताया कि नोटों की गिनती कर ली गई है। बरामद रुपये आयकर अधिकारियों को सौंप दिए जाएंगे। नोट किसके हैं इसकी जांच की जा रही है। वहीं, जीआरपी इंस्पेक्टर राम मोहन राय ने बताया कि बैग को आयकर विभाग के सुपुर्द किया जाएगा। सभी सीटें आरक्षित हैं, लिहाजा जनरल श्रेणी में भी चलने वाले यात्रियों को रिकॉर्ड है। सेंट्रल स्टेशन के सीसीटीवी फुटेज भी खंगाले जा रहे है।

यह भी पढ़ें : अंडरवियर में छिपाया डेढ़ करोड़ का सोना

Show More
Hariom Dwivedi
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned