यहां बीमारी से कम इस वजह से ज्यादा जूझ रहे हैं मरीज, जानकर दंग रह जाएंगे

इस तरह यहाँ आकर मरीजों के सारे अरमान पर पानी फिर जाता है।

By: Arvind Kumar Verma

Published: 03 Dec 2019, 04:53 PM IST

कानपुर देहात-सरकार लाख प्रयास कर ले लेकिन स्वास्थ कर्मी अपनी मनमानी से बाज नहीं आ रहे हैं। इसके चलते इलाज के लिए जिला अस्पताल आने वाले गरीबों की कमर टूट रही है। दरअसल शासन की मंशा के अनुरूप अस्पताल में आने वाले मरीजों को अस्पताल से ही दवा मिलनी चाहिए। इससे गरीबों का निशुल्क इलाज हो सके लेकिन जिला अस्पताल के चिकित्सक कमीशन के लालच में गरीबों को बाहर की दवा लिखकर देते है। इसको वजह से यहां मरीज अस्पताल के बजाय महंगी दवाएं बाहर मेडिकल स्टोर से लेने को मजबूर हो रहे हैं।

बताया गया कि कानपुर देहात के जिला अस्पताल में ओपीडी में ग्रामीण क्षेत्रों से आने वाले ज्यादातर मरीज ग्रामीण व आर्थिक रूप से कमजोर होते हैं। मरीज यहां पर यह सोचकर आते हैं कि दवाएं अस्पताल में मुफ्त में मिलेंगी साथ ही प्रधानमंत्री जन औषधि केंद्र में सस्ते दामों में मिल जाएगी, लेकिन जब वह डॉक्टर का लिखा पर्चा लेकर जाते हैं तो उनके सारे अरमान पर पानी फिर जाता है।

ज्यादातर दवाएं यहां पर नहीं मिल पाती हैं। ऐसे में उन्हें बाहर जाकर मेडिकल स्टोर की सेवा करनी पड़ती है और महंगी दवाएं खरीदनी पड़ती हैं। डॉक्टर दवा कंपनियों व मेडिकल स्टोर से मिलने वाले कमीशन के लालच में बाहर की दवाएं पर्चे पर लिखते हैं। सबसे ज्यादा बच्चों, हड्डी रोग, महिला संबंधी रोग की दवाएं मरीजों को बाहर से लेनी पड़ रही हैं। इसके चलते दूरदराज से आए लोग यहां आने पर व्यवस्था को कोसते हैं। इसके चलते मरीजों को समस्याओं का सामना करना पड़ रहा है।

Show More
Arvind Kumar Verma
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned