खबरदार : और इस तरह शहर में पैदा हो सकता है बड़ा जल संकट

खबरदार : और इस तरह शहर में पैदा हो सकता है बड़ा जल संकट

Alok Pandey | Publish: Sep, 09 2018 02:17:06 PM (IST) Kanpur, Uttar Pradesh, India

शहर में बारिश और पीछे से छोड़े गए पानी की वजह से चारों तरफ पानी ही पानी है, लेकिन इसके बाद भी आप को पानी के लिए ही तरसना पड़ सकता है. कारण है कि क्योंकि जल निगम पर केस्को का करोड़ों रुपए का बिजली का बिल बकाया है.

कानपुर। शहर में बारिश और पीछे से छोड़े गए पानी की वजह से चारों तरफ पानी ही पानी है, लेकिन इसके बाद भी आप को पानी के लिए ही तरसना पड़ सकता है. कारण है कि क्योंकि जल निगम पर केस्को का करोड़ों रुपए का बिजली का बिल बकाया है. कई बार रिमाइंडर के बाद भी बिल नहीं चुकाने पर केस्को ने जल निगम को नोटिस भेज दिया है. जिसमें बिल जमा न करने पर कनेक्शन काटने की बात कही गई है.

पहले भी हो चुका है ऐसा
जेएनएनयूआरएम के तहत जल निगम की ओर से 2 पेयजल योजनाओं का निर्माण किया गया. इसमें गंगा बैराज में पंपिंग स्टेशन और वाटर ट्रीटमेंट शामिल है. इसको चलाने में अब तक 46 करोड़ 38 लाख का बिल हो चुका है, जिसे केस्को को नहीं चुकाया गया है. इस मामले ने केस्को ने जल निगम को नोटिस जारी कर बिल जमा करने के लिए कहा है, अन्यथा कनेक्शन काट दिया जाएगा. ऐसे में शहर में बड़ा जल संकट हो सकता है. वहीं कुछ महीने पहले बिल न जमा न होने पर केस्को ने शहर के 6 पंपिंग स्टेशनों की लाइट काट दी थी, जिसमें स्थानीय लोगों द्वारा हंगामा भी किया गया था.

भेजा गया पत्र
बिजली का बिल चुकाने में जल निगम ने अपनी असमर्थता जताते हुए नगर आयुक्त संतोष कुमार शर्मा को पत्र लिखा है. जिसमें कहा गया है कि जेएनएनयूआरएम के तहत बनाए गए पंपिंग स्टेशन को जलकल को हैंडओवर किया जाना है. इस प्रक्रिया को अभी तक पूरा नहीं किया गया है. ऐसे में पंप के संचालन में आने वाले बिजली के खर्च को जल निगम वहन नहीं कर सकता है. नगर निगम और जलकल अपनी निधि से इस बिल को अदा करें, अन्यथा पानी की आपूर्ति प्रभावित होने पर जल निगम की कोई जिम्मेदारी नहीं होगी. जल निगम के चीफ इंजीनियर एके गुप्ता ने बताया कि जल निगम के पास इतना बजट नहीं है जिससे 46 करोड़ का बिल अदा किया जा सके.

5 लाख से ज्‍यादा की आबादी होगी प्रभावित
अगर गंगा बैराज स्थित पंपिंग स्टेशन की लाइट कटी तो शहर में इससे लाखों लोग प्रभावित होंगे. बता दें कि बैराज स्थित जोनल पंपिंग स्टेशन से कल्याणपुर, आजादनगर, गुरुदेव चौराहा, विकासनगर, नवाबगंज सहित दर्जनों इलाकों में पानी आपूर्ति होती है. जबकि एक दूसरी लाइन से जलकल को जलापूर्ति होती है. इसमें करीब 5 लाख से ज्यादा आबादी प्रभावित होगी.

Ad Block is Banned