बिकरू कांड: नाबालिग खुशी की हुई कोर्ट में पेशी, फर्जी आईडी पर सिम खरीदने का आरोप

कड़ी सुरक्षा के बीच उसे बाराबंकी बालिका संरक्षण गृह से कोर्ट लाया गया था।

By: Arvind Kumar Verma

Updated: 06 Jan 2021, 04:19 PM IST

कानपुर देहात-बिकरू कांड की आरोपी नाबालिग खुशी को फर्जी आईडी पर सिम खरीदने के आरोप में एंटी डकैती कोर्ट में पेशी पर लाया गया। जिसे कड़ी सुरक्षा के बीच उसे बाराबंकी बालिका संरक्षण गृह से कोर्ट लाया गया था। वहीं बिकरू कांड के मुख्य आरोपी विकास दुबे के भाई दीपक दुबे सहित शशिकांत पांडेय, रेखा अग्निहोत्री, हीरू दुबे की मां शांति, आशुतोष त्रिपाठी उर्फ शिव, विमल प्रकाश उर्फ छोटू आदि छह आरोपियों की भी माती कोर्ट में पेशी हुई। इन पर फर्जी शपथपत्र लगाकर शस्त्र लाइसेंस लेने के आरोप में रिपोर्ट दर्ज है। कोर्ट ने सभी के बयान दर्ज कराए। एसआईटी की जांच में फर्जी शपथ पत्र लगाने का खुलासा हुआ था।

पढ़ें-: बिकरू कांड के आरोपी पर इनाम बढ़कर हुआ 50 हजार, पुलिस की पकड़ से है अभी दूर

जिसके बाद इन पर फर्जी शपथ पत्र देने की धाराएं और बढ़ा दी गई थीं। ये सभी आरोपी जेल में हैं। इन्हे भी पुख्ता सुरक्षा इंतजाम के साथ कानपुर देहात की माती कोर्ट लाया गया था। वहीं सुनवाई के बाद खुशी को बाराबंकी लेकर पुलिस टीम रवाना हो गई। इस दौरान खुशी की मां उस झोले में कुछ खाने का सामान देने के लिए गईं तो पुलिस ने उन्हें मना कर दिया। वहीं अन्य आरोपियों को जेल में दाखिल किया गया। खुशी के अधिवक्ता शिवाकांत दीक्षित ने बताया कि वह अपनी मां गायत्री तिवारी के नाम से लिए गए सिम का इस्तेमाल कर रही थी। इसके पूरे साक्ष्य विवेचक को उपलब्ध कराए गए थे।

Arvind Kumar Verma
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned