बिकरू कांड - एसआईटी जांच में 37 पुलिसकर्मियों में 11 सीओ दोषी

- कई सीओ रिटायर हो चुके

By: Narendra Awasthi

Published: 12 Feb 2021, 08:39 PM IST

कानपुर. बिकरू कांड की एसआईटी जांच 37 पुलिसकर्मियों को दोषी पाया गया था। जिसमें 11 सीओ शामिल थे। एसआईटी सभी केेे बयान लेने की तैयारी में है। लेकिन ऐसे सीओ जो रिटायर हो चुके हैं। उनके खिलाफ क्या कार्रवााई की जाए पर संशय बरकरार है। उल्लेखनीय है 11 सीटों में 5 पहले ही रिटायर हो चुके हैं। सभी सीओ के बयान की तैयारी में है

2 जुलाई की रात पुलिस के लिए काली रात

विगत वर्ष 2 जुलाई 2020 की रात पुलिस रिकॉर्ड में काली रात में दर्ज होगा। जब दबिश देने गई पुलिस टीम पर कुख्यात अपराधी विकास दुबे और उसके गुर्गों ने फायरिंग शुरू कर दी। जिसमें सीओ सहित आठ पुलिसकर्मियों मौत हो गई थी। दुस्साहासिक घटना के बाद पुलिस ने ताबड़तोड़ कार्रवाई करते हुए घटना में शामिल आधा दर्जन कुख्यात अपराधियों को मार गिराया। लेकिन हिस्ट्रीशीटर से नजदीकियां रखने वाले अधिकारियों पर कार्रवाई अभी भी जारी है।

संजय भूसरेड्डी की अध्यक्षता में एसआईटी

शासन ने घटना की गंभीरता को देखते हुए संजय भूसरेड्डी के नेतृत्व में एसआईटी का गठन किया। एसआईटी टीम ने 37 पुलिसकर्मियों को दोषी पाया। जिसमें 11 सीओ भी शामिल है। इनमें पांच क्षेत्राधिकारी रिटायर हो चुके हैं। जिनके खिलाफ क्या कार्रवाई की जाए पर असमंजस बरकरार है। वहीं दो क्षेत्राधिकारी के नाम के स्थान पर उनका कार्यकाल लिखा है। ब्रज सिंह नाम के सीईओ के विषय में एसआईटी को कोई भी जानकारी नहीं मिल पा रही है। एसआईटी अन्य सीओ के बयान लेने की तैयारी में है।

Narendra Awasthi
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned