Bikru kand update - अदालत के आदेश से राहत भरी खबर, सभी आरोपी को पेश किया गया

बिकरू कांड की अगली तारीख 16 मार्च निश्चित की गई है। बचाओ पक्ष के अधिवक्ता ने केस डायरी ना होने का हवाला देते हुए आरोप निर्धारण के बहस पर रोक लगाने की मांग की। घटना से जुड़ी 7 वर्षीय बच्ची को मिली राहत

By: Narendra Awasthi

Published: 04 Mar 2021, 10:00 PM IST

कानपुर. बिकरु कांड की सुनवाई में बचाव पक्ष के वकील ने केस डायरी का हवाला देते हुए बहस पर रोक लगाने की मांग की। तो अदालत ने अगली तारीख 16 मार्च दी है। इसके साथ ही कोर्ट के आदेश के बाद 7 वर्षीय बच्ची को उसकी मौसी को सौंपने के आदेश दिए गए हैं। बिकरु कांड का मामला एंटी डकैती कोर्ट में चल रहा है जिसमें कांड से जुड़े सभी आरोपियों को पेशी पर लाया गया।

 

2 जुलाई को हुई थी घटना

बिकरू गांव में विगत 2 जुलाई को विकास दुबे व उसके गुर्गों ने सीओ सहित आठ पुलिसकर्मियों की हत्या कर दी थी इस मामले में पुलिस ने 37 आरोपियों को गिरफ्तार किया। जिन्हें पैसे के लिए एंटी डकैती कोर्ट में लाया गया। पेशी के दौरान बचाव पक्ष के अधिवक्ता ने अदालत में प्रार्थना पत्र देते हुए मांग की कि मामले में केस डायरी के प्रति रोज दी जाए। जिस पर अदालत ने अगली तारीख 16 मार्च दी है। जिसमें आरोप का निर्धारण होगा।

7 वर्षीय मासूम को मिली राहत

गांव में विकास दुबे के पिता की देखभाल करने वाली महिला रेखा अग्निहोत्री और उसका पति दयाशंकर अग्निहोत्री दोनों जेल में है जिसके कारण उसकी दो बेटियां 7 और 3 साल की भी जेल में है इस संबंध में रेखा की बहन गुड्डी देवी ने अदालत में प्रार्थना देकर बड़ी बेटी का लालन-पालन और शिक्षा के लिए सुपुर्दगी देने की मांग की थी जिस पर अदालत ने उसकी प्रार्थना स्वीकार करते हुए बड़ी बेटी को बहन के सुपुर्द करने का आदेश दिया है।

Narendra Awasthi
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned