पार्षद ने सेनटरी अधिकारी को थप्पड़ जड़े, नगर.निगम के कर्मचारी सड़क पर उतरे

पनकी के भाजपा पार्षद ने पब्लिक के बीच में सरकारी कर्मचारी पर उठाया हाथ, पुलिस ने मामला किया दर्ज

By: Vinod Nigam

Published: 03 Apr 2018, 07:36 PM IST

कानपुर। सत्ताधरी दल के भाजपा पार्षद ने इलाके में सफार्द नहीं होने के चलते नगर निगम के सिनेटरी अधिकारी को जमकर लताड़ा। जब उन्होंने बहस करनी की कोशिश की तो भाजपा पार्षद ने उनकी पिटाई कर दी। इसकी भनक जैसे ही नगर निगम के अन्य कर्मचारियों को हुई तो उग्र हो गए और हंगामा कर कार्य का बहिष्यार कर दिया। सूचना पर पहुंची पुलिस ने कर्मचारियों को शांत कराया और भाजपा पार्षद के खिलाफ एफआईआर दर्ज कर ली। कर्मचारियों ने ऐलान किया है कि यदि आरोपी पार्षद को अरेस्ट नहीं किया गया तो बुधवार से शहर की साफ-सफाई नहीं की जाएगी।
सफाई को लेकर की पिटाई
पनकी वार्ड से सुमित पाल पार्षद हैं। मंगलवार को मोहल्ले के लोगों ने उनसे साफ-सफाई नहीं होने की शिकायत की। पार्षद ने पूरे प्रकरण की जांच के लिए सेनटरी अधिकारी ओम नारायण को को तलब कर लिया। वह मौके पर पहुंचे तो भाजपा पार्षद उन्हें जमकर फटकार लगाई। इसी दौरान ओम नारायण ने अपना पक्ष रखना चाहा तो पार्षद भड़क गए और लोगों के सामने ही उनकी पिटाई कर दी। इसकी जानकारी जैसे ही शहर के सफाई कर्मचारियों को हुई तो वह काम छोड़कर नगर निगम पहुॅच गये। कर्मचारियों ने नगर निगम में जमकर हंगामा और नारेबाजी की। उन्होने आरोपी बीजेपी पार्षद के खिलाफ थाने में मुकदमा दज कराने और उसकी सदस्यता खत्म करने के लिये शासन को अनुशंसा भेजने की मॉग रखी। कमचारियों ने मॉगे पूरी न होने तक शहर में सफाई का काम ठप्प रखने की चेतावनी भी दी।
भाजपा पार्षद को बचाना चाहती हैं मेयर
पूरे मामले को कर्मचारी मेयर के ऑफिस में पहुंचे, लेकिन वह बाहर नहीं आई। कानपुर नगर निगम कर्मचारी संगठन के महामंत्री हरिओम वाल्मीकि ने कहा कि मेयर प्रमिला पांडेय अपने भाजपा पार्षद को बचाना चाहती हैं। हमने उनसे मिलने का समय मांगा पर वह मिलने को तैयार नहीं हुई। यदि शासन-प्रशासन ने आरोपी पार्षद के खिलाफ कार्रवाई नहीं की तो बुधवार से हम सफाई नहीं करेंगे। महामंत्री ने कहा कि हमने पुलिस को तहरीर दी है। पुलिस ने जांच के बाद कार्रवाई का आश्वासन दिया है। लेकिन भाजपा नेताओं के इशारे पर पुलिस आरोपी पार्षद को बचाने में लगी है। साथ ही नगर आयुक्त अविनाश सिंह भी कर्मचारियों के बजाए भाजपा पार्षद के साथ खड़े हैं।
कुछ इस तरह से बोले जिम्मेदार
मामले पर प्रमिला पांडेय ने कहा कि मुझे ऐसे किसी भी प्रकरण की जानकारी नहीं है। कोई भी कर्मचारी मेरे पास शिकायत लेकर नहीं आया। बावजूद अगर किसी ने कर्मचारी को पीटा है तो वह सरासर गलत है और उस पर पुलिस कार्रवाई करेगी। नगर अयुक्त अविनाश सिंह ने बताया कि एक कर्मचारी के पीटे जाने की सूचना मिली थी। जिस पर पुलिस ने एफआईआर दर्ज कर ली है। कर्मचारियों से हम बात कर रहे हैं और उन्हें काम पर वापस लगने को कहा है।

BJP
Vinod Nigam
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned