भाजपा छोड़ प्रसपा में शामिल हुआ ये दिग्गज नेता


पार्टी कार्यालय में दिलाई गई सदस्यता, कल्याणपुर विधानसभा सीट से दो बार लड़ चुके हैं विधानसभा चुनाव।

कानपुर। भारतीय जनता पार्टी के वरिष्ठ नेता हरि कुशवाहा ने पार्टी से इस्तीफा देकर प्रगतिशील समाजवादी पार्टी लोहिया में शामिल हो गए। उन्हें पार्टी की सदस्यता नगर अध्यक्ष आशीष चौबे ने दिलाई। इस मौके पर पूर्व भाजपा नेता ने कहा कि वह राष्ट्रीय अध्यक्ष शिवपाल यादव के कंधे से कंधा मिलाकर पार्टी को मजबूत करेंगे। 2020 के विधानसभा चुनाव में योगी सरकार जाएगी और प्रसपा के सहयोग से उत्तर प्रदेश में नई सरकार बनेंगी।

कौन हैं हरि कुशवाहा
मूलरूप से कल्याणपुर विधानसभा क्षेत्र निवासी हरि कुशवाहा भाजपा से पहले लोकदल में थे। 1984 और 1989 को विधानसभा चुनाव भी कुशवाह कल्याणपुर विधानसभा सीट से लोकदल के टिकट पर लड़े थे। इसके बाद काशीराम के संपर्क में आने के बाद बसपा की सदस्यता ले ली। 18 वर्ष तक बसपा में रहकर पार्टी को मजबूत किया। 2012 के विधानसभा चुनाव से पहले कुशवाह बसपा छोड़ भाजपा का दामन थाम लिया।

आशीष चौबे ने दिलाई सदस्यता
प्रसपा नगर अध्यक्ष आशीष चौबे ने सोमवार को पार्टी कार्यालय में हरि कुशवाहा को प्रसपा की सदस्यता दिलाई। नगर अध्यक्ष ने कहा कि भाजपा की जनविरोधी नीतियों के चलते पुराने नेता पार्टी छोड़ रहे हैं। भाजपा के शासनकाॅल में फिर अराजकता है। भाजपा में कोई भी खुलकर बोल नहीं सकता। वहां सिर्फ प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और गृहमंत्री अमित शाह की चलती है। ऐसे में पार्टी के नेताओं को भाजपा से मोहभंग हो रहा है।

सपा में नहीं होगा विलय
प्रसपा नगर अध्यक्ष ने कहा कि 2020 के चुनाव से पहले समाजवादी पार्टी, बसपा और भाजपा के नेता प्रसपा में शामिल होंगे। प्रसपा नगर अध्यक्ष के मुताबिक सपा के कई नेता हमारे संपर्क में हैं और वह भाजपा को हराने और राष्ट्रीय अध्यक्ष शिवपाल यादव के हाथों को मजबूत करने के लिए जल्द ही पार्टी की सदस्यता लेंगे। प्रसपा नेता ने सपा के साथ विलय पर साफ इंकार करते हुए कहा कि हमारे राष्ट्रीय अध्यक्ष ने पहले ही कह दिया कि है कि हम सेकुलरवादी सोंच वाले दलों के साथ गठबंधन को तैयार हैं।

Vinod Nigam
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned