पंचायत चुनाव को लेकर बीजेपी ने तैयार किया चक्रव्हूय, सपा-बसपा के गढ़ में ये नेता खिलाएंगे कमल का फूल

कानपुर-बुंदेलखंड में जीत दर्ज करने के लिए सुनील बंसल ने कार्यकर्ताओं के साथ की बैठक, जीत का दिया मंत्र, घर-घर जाकर तैयार करें रिपोर्ट और प्रदेश के पार्टी कार्यालय को भेजेंगे।

By: Vinod Nigam

Updated: 15 Mar 2020, 01:47 PM IST

कानपुर। उत्तर प्रदेश में इसी वर्ष अक्टूबर में होने वाले पंचायत चुनावों को लेकर सभी राजनीतिक दलों ने अभी से तैयारियां शुरू कर दी है। भारतीय जनता पार्टी 2022 से पहले इसे सेमीफाइनल की तौर पर देख रही है और इसी के चलते संगठन को तेज धार देने पर जोर देना शुरू कर दिया। समाजवादी पार्टी और बसपा के गढऋ कानपुर-बुंदेलखंड में कमल का फूल खिलाने की जिम्मेदारी प्रदेश उपाध्यक्ष दयाशंकर सिंह और विधायक विपिन वर्मा डेविड को दी गई है। शनिवार को प्रदेश महामंत्री (संगठन) सुनील बंसल शहर पहुंचे और पदाधिकारियों के साथ बैठक कर कानपुर-बंुदेलखंड के सभी जिलों में पार्टी की जीत का मंत्र दिया।

जीत का दिया मंत्र
भारतीय जनता पार्टी कानपुर बुंदेलखंड क्षेत्र की मंडल प्रभारी कार्यशाला शास्त्री नगर स्थित एस्सेल पैलेस में क्षेत्रीय अध्यक्ष मानवेंद्र सिंह की अध्यक्षता में संपन्न हुई। बैठक में भाग लेने के लिए प्रदेश महामंत्री संगठन सुनील बंसल शहर पहुंचे। इस मौके पर उन्होंने इस परिक्षत्र के सभी 254 मंडलों के प्रभारियों को संबोधित करते हुए पूरी ताकत के साथ पंचायत चुनाव जीतने का मंत्र दिया।

भाजपा सबसे अलग दल
सुनील बंसल ने कहा कि भारतीय जनता पार्टी 365 दिन काम करने वाली राष्ट्र हित के बारे में सदैव सोचने वाली पार्टी है। कहा कि पंड़ित दीनदयाल उपाध्याय के अंत्योदय के विचार से अंतिम पंक्ति के व्यक्ति तक खुशहाली और विकास पहुंचाने के लिए पार्टी पंचायत चुनावों में सहभागिता करेगी। उन्होंने कहा कि भाजपा परिवारवाद, वंशवाद, जातिवाद से ऊपर उठकर राष्ट्रवाद के बारे में सोचती है। पंचायत चुनाव के माध्यम से ऐसे कार्यकर्ताओं का निर्माण भी हो सकेगा जो राष्ट्र निर्माण व विकास के लिए कार्य करना चाहते हैं। उन्होंने कार्यकर्ताओं का आह्वान किया कि वे पंचायत चुनावों में अपनी भूमिका का निर्वहन करें।

सपा-बसपा की खोली पोल
कहा कि सपा-बसपा ने पंचायत चुनावों में बाहुबली और धनाढ्य लोगों को सत्ता का दुरुपयोग कर चुनाव जितवाया। इससे भ्रष्टाचार बढ़ा है। अब आगामी पंचायत चुनावों में ऐसे लोग जीतकर आए जिनका लक्ष्य अपने क्षेत्र व गांवों के विकास के साथ-साथ राष्ट्र निर्माण में भी योगदान करना हो। बंसल ने बैठक में उपस्थित पदाधिकरियों से कहा कि वे पार्टी संगठन की योजना के अनुसार पंचायत चुनावों को लेकर मंडल, जिला, ब्लॉक स्तर तक अभी से संगठनात्मक ढांचा सुदृढ़ करने में जुटें।

इन्हें दी गई जिम्मेदारी
बैठक के बाद वरिष्ठ कार्यकर्ताओं को मंडलों का प्रभारी बनाया गया। प्रभारियों को मंडलों के साथ ही सेक्टर वार बूथवार सभी कार्यकर्ताओं से मिलकर पार्टी को आगे बढ़ाने का लक्ष्य दिया गया है। सभी मंडल प्रभारी माह में कम से कम 4 दिन अपने अपने क्षेत्रों में प्रवास करेंगे। कार्यक्रमों का लेखा-जोखा एक डायरी में लिखेंगे। सभी को ग्रामीण इलाकों में जाकर किसानों की समस्याएं सुनने और उनका निराकरण कराए जाने को भी कहा गया है। केंद्र व राज्य सरकार की योजनाओं की जानकारी भी यही प्रभारी देंगे।

बैठक में ये नेता रहे मौजूद
बैठक में प्रमुख रूप से प्रदेश महामंत्री सलिल विश्नोई, नीलिमा कटियार क्षेत्रीय संगठन मंत्री भवानी सिंह मंच पर उपस्थित थे। कार्यशाला का संचालन मुखलाल पाल ने किया। इस बैठक में आनंद राजपाल, संजीव श्रृंगीऋषि, रामलखन रावत, सुधीर सिंह, मोहित पाण्डेय, प्रमोद अग्रहरि बॉर्डर, डॉ बीना आर्या पटेल, पर्वत सिंह यादव, सुनील बजाज, कृष्ण मुरारी शुक्ल, अविनाश चैहान आदि उपस्थित थे। सुनील बंसल ने सभी से कहा कि वह अपने-अपने क्षेत्रों के गांवों में रात्रिप्रवास करें। ग्रामीणों के साथ चैलाग लगाएं और योजनाओं का लाभ हर व्यक्ति तक पहुंचाएं।

Bharatiya Janata Party Prime Minister Narendra Modi
Show More
Vinod Nigam
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned