कानपुर में खुल गया चिल्ड्रेन बैंक ऑफ इंडिया, पांच सौ के बजाए निकले चूरन का रूपया

किदवईनगर के एम ब्लॉक स्थित एक्सिस बैंक के एटीएम से पांच सौ के निकले नकली नोट

By: Vinod Nigam

Published: 10 Feb 2018, 06:11 PM IST

कानपुर, पुलिस ने पिछले दिनों शहर से 96 करोडद्य के पूराने नोटों की करेंसी बरामद कर कई आरोपियों को जेल भेजा था। पर शनिवार को कानपुर में एक नया मामला सामने आया। किदवईनगर के एम ब्लॉक स्थित एक्सिस बैंक की एटीम से पांच सौ के नकली नोट निकलने। ग्राहक ने जैसे ही नोटों पर नजर अड़ाया तो उसमें एक तरफ में चिल्ड्रेन बैंक ऑफ इंडिया तो दूसरी तरफ फुल ऑफ फन मोटे-मोटे अक्षरों में लिखा था। यह देख उसके पैरों के तले से जमीन खिसक गई। पीड़ित ने पुलिस को सूचना दी। पुलिस मौके पर पहुंची और बैंक के अफसरों को तलब कर लिया।
नकली नोट देख पुलिस को दी जानकारी
जूही थाना क्षेत्र स्थित मार्बल मार्केट में एक्सिस बैंक का एटीएम् है। किदवई नगर में रहने वाले रामेन्द्र अवस्थी से कैश निकालने के लिए एटीएम पहुंचे।े एटीएम मशीन से नकली नोट हाथ में आया तो वह खुद को ठगा सा महसूस करने करने लगे। रमेश ने पुलिस को जानकारी दी। पुलिस मौके पर पहुंची और मामले की जांच में जुट गई हे। रामेन्द्र अवस्थी के मुताबिक एक्सिस बैंक के एटीएम से 20 हजार रुपये निकाले, जिसमें से दो 500 के नोट नकली निकले है। जिसमें लिखा था चूरन लेबल ,चिल्ड्रेन बैंक ऑफ़ इण्डिया। उन्होंने कहा यह ग्राहकों के साथ धोखा किया जा रहा है। इसकी शिकायत उच्च अधिकारियो से करेगे ,जो लोग एटीएम् में रुपये डालने के लिए आते है वही लोग ऐसा खेल करते हैं। वही सचिन नाम का ग्राहक ने जब एटीएम से 10 हजार रुपये निकाले तो उसमे एक 500 का नकली नोट निकला है। उनका कहना है कि इस मशीन में और भी नकली नोट हो सकते हैं। पुलिस ने एटीएम् को बंद करा दिया, एक्सिस बैंक के अधिकारियो से पूछताछ कर रही है।
एटीएम के सीसी कैमरे की भी जांच की जा रही
मार्बल मार्केट के अध्यक्ष विजय कुमार तथा महामंत्री हिमांशु पाल भी सूचना मिलने के बाद मौके पर पहुंचे। उन्होंने एक्सिस बैंक के मैनेजर आनंद राज को सूचना दी। फिलहाल एटीएम बंद कर दिया गया है। एक्सिस बैंक किदवईनगर शाखा के मैनेजर आनंदराज सोनी का कहना है कि एटीएम में कैश सीएमएस कंपनी डालती है। गार्ड ने फोन पर नकली नोट निकलने की सूचना दी है। कैश मैनेजमेंट कंपनी को भी सूचना दी गई है। वह लोग चेक करके बताएंगे कि नकली नोट कहां से आए। एटीएम के सीसी कैमरे की भी जांच की जा रही है। गार्ड ने बताया कि पैसा निकालने आए दोनों लोग रुपए लेकर बाहर निकल गए थे। उसके बाद सूचना दी कि नकली नोट निकले हैं।
तो एटीएम में चल रहा फर्जीवाड़ा
एक्सिस बैंक से नकली नोट निकलने से बैंक के अफसर पूरे प्रकरण कह जांच कर रहे हैं, वहीं ग्राहकों का कहना है कि शहर के कई एटीएम में ऐसे मामले पहले भी सामने आ चुके हैं। यह बैंक के कर्मचारियों और अफसरों की मदद के बिना संभव नहीं है। यही लोग एडीएम में नकली नोट डालकर असली नोट पार कर ले जा रहे हैं। आरबीआई को पूरे मामले की गंभीरता से जांच करवानी चाहिए और जो भी दोषी हो उसके खिलाफ कड़ी कार्रवाई होनी चाहिए। महामंत्री हिमांशु ने बताया कि नोटबंदी से पहले एसबीआई के एटीएम से सौ के नकली नोट निकले थे। पुलिस की जांच के बाद बैंक के कर्मचारी पकड़े गए थे।

 

 

Vinod Nigam
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned