कोरोना को लेकर शासन ने यूपी को किया एलर्ट, लेकिन यहां जांच के नहीं कोई इंतजाम, बड़ी समस्या

जबकि प्रमुख सचिव द्वारा कई बार वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग कर निर्देश दिए गए हैं।

By: Arvind Kumar Verma

Published: 13 Mar 2020, 11:39 PM IST

कानपुर देहात-कोरोना वायरस को लेकर जहां एक तरफ देश सहित प्रदेश में हड़कंप मचा हुआ है। वहीं कानपुर देहात का स्वास्थ महकमा बेखबर बना हुआ है। जबकि सरकार ने प्रदेश के स्वास्थ विभाग को एलर्ट कर दिया है। बावजूद एलर्ट के नाम पर यहां सिर्फ ट्रामा भवन में कोरोना भवन बनाकर अलग बेड लगा दिए गए हैं। अभी तक मास्क व सेनेटाइजर की दुरुस्त व्यवस्था देखने को नहीं मिल रही है। जबकि शासन से निर्देश के बाद बजट मिलने के बाद भी जिला अस्पताल कोरोना के लिए पूर्ण रूप से तैयार नहीं हो सका है। जबकि प्रमुख सचिव द्वारा कई बार वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग कर निर्देश दिए गए हैं। एलर्ट जारी होने के बावजूद जिला अस्पताल के जनरल वार्ड के बगल में एक दस वार्ड का बेड बनाया गया है।

वहीं दूसरे वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग में कोरोना वार्ड को अस्पताल के मुख्य भवन से अलग रखने का निर्देश जारी हुआ तो उसे ट्रामा सेंटर के खाली भवन में शिफ्ट कर दिया गया है। शासन से ढाई लाख का बजट मिलने के बावजूद यहां पर अब तक निर्धारित मानक 60 फीसदी अल्कोहल बेस्ड सेनेटाइजर नहीं आ सके हैं। हालात यह हैं कि जिला अस्पताल में वेंटिलेटर की सुविधा भी नहीं है। अगर कोई मरीज कोरोना संक्रमित पाया जाएगी उसे रेफर ही करना पड़ेगा।

वहीं जिला अस्पताल के सीएमएस डॉ आरए मिर्जा ने बताया कि कोरोना वायरस से बचाव के लिए मास्क और एल्कोहोल बेस्ड सेनेटाइजर जल्द पहुंच जाएंगे। जल्द वितरण करा दिए जाएंगे। शासन के निर्देश पर मुख्य भवन से अलग वार्ड बना दिया गया है। कोरोना संदिग्ध की जांच का यहां कोई इंतजाम नहीं है। इसकी जांच लखनऊ में ही होती है। अभी तक ऐसा कोई संदिग्ध नहीं आया है।

Corona virus
Arvind Kumar Verma
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned