कोरोना को लेकर सीएम योगी की बड़ी सौगात, 38907 लोगों के खातों में पहुचाए तीन करोड़

कानपुर मंडल के रजिस्टर 2 लाख कामगारों के खाते में जल्द ही पहुंचा दी जाएगी रकम, श्रृम विभाग इस पर कर रहा है युद्ध स्तर पर कार्य।

कानपुर। कोरोना वायरस को लेकर देश में 21 दिन का लाॅकडाउन है। इसी के चलते प्रदेश के मुख्यमंत्री ने कामगारों के लिए आर्थिक मदद देने का ऐलान किया था। जिसका पालन उद्योगनरी में शुरू हो गया है। श्रृम विभाग ने कानपुर मंडल के 38907 कामगारों के खातों में 3 करोड 89 लाख की धनराषि भेजी है। इस परिक्षेत्र में 2 लाख रजिस्टर कामगार है। जिनके खातों पर बची रकम भेजने के लिए विभाग के अधिकारी लगे हुए हैं।

2 लाख रजिस्टर कामगार
अपर श्रमायुक्त कानपुर परिक्षेत्र एसपी शुक्ला ने बताया की प्रदेश के सीएम योगी आदित्यनाथ ने रजिस्टर कामगारों के खाते में एक-एक हजार रूपए ट्रांसफर करने का आदेश दिया है। जिसके तहत पूरे मंडल के रजिस्टर 2 लाख कामगारों के खाते में पैसे भिजवाने की व्यवस्था की गई है। बुधवार को 38907 कामगारों के खातों में रकम पहुंच चुकी है। बताया सभी कामगारों को 3 दिन में बैंक का ब्योरा हेल्प लाइन में भेजने की सूचना जारी की गई है। साथ ही जिनका नवीकरण नहीं हुआ है उन्हें श्रम विभाग ने चालान लेकर बैंक में नवीकरण धनराषि जमा कर ब्योरा देने के निर्देश दिए हैं।

सीएम ने दिए हैं आदेश
बतादें बीते दिन सीएम योगी आदित्यनाथ ने कोरोना वायरस को लेकर बड़ा एलान करते कहा था कि सरकार तत्काल प्रभाव से 35 लाख मजदूरों को 1000 रुपये प्रति व्यक्ति देगी। सीएम ने बताया था कि राज्य में 15 लाख दिहाड़ी मजदूर पंजीकृत हैं, उन्हें 1000 रुपये की मदद देंगे। साथ ही चिन्हित 20.37 लाख मजदूरों (रिक्शा वाले, खोमचे वाले, रेहड़ी वाले, फेरी वाले, निर्माण कार्य करने वाले) को भी 1000 रुपये की सहायता राशि दी जाएगी। इसके अलावा सभी पंजीकृत मजदूरों को भरण पोषण भत्ता देंगे।

सिर्फ रोटी ही चाहिए
मजदूरों ने सीएम योगी आदित्यनाथ की इस पहल का स्वागत किया है। राजू पाल कहते हैं कि 21 दिन के लाॅकडाउन के चलते रोज कमाने और खाने वालों के साथ रोटी का संकट खड़ा हो गया था। लेकिन सरकार की इस पहल से कुछ हद तक राहत मिलेगी। पिछले 5 सालों से घंटाघर रेलवे स्टेशन पर रिक्शा चलाने वाले महबूब ने कहा कि लाकडाउन का असर सबसे ज्यादा गरीब लोगों को हो रहा है। परिवार मां के अलावा पत्नी व दो बेटिया हैं। रिक्शा नहीं चल पाने से घर में रोटी नहीं पकी। मोहल्ले के एक कारोबारी के चलते हमसब की जिंदगी बची हे।

Corona virus Corona Virus treatment coronavirus
Show More
Vinod Nigam
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned