परिवार समेत दर्शन करके लौट रहे थे दंपति, फिर मवेशियों के झुंड ने बना दिया शिकार, भीड़ ने कर दिया हंगामा खड़ा

Arvind Kumar Verma | Publish: Sep, 04 2018 03:05:31 PM (IST) | Updated: Sep, 05 2018 12:40:11 PM (IST) Kanpur, Uttar Pradesh, India

शोभन सरकार आश्रम से दर्शन कर दम्पति परिवार समेट घर लौट रहे थे। तभी आवारा मवेशियों का झुंड बन गया काल और ये बडा हादसा हो गया आक्रोशित भीड ने लगा दिया जाम।

कानपुर देहात-जनपद में आवारा मवेशी अब लोगों के लिए मुसीबत बनते जा रहे हैं। आये दिन मवेशियों के चलते हादसों से मरने वालो की संख्या में वृद्धि होती जा रही है। ऐसी ही एक दर्दनाक घटना रसूलाबाद क्षेत्र में हुई, जिसमें आवारा मवेशी दंपति के लिए काल बन गए। दरअसल शोभन सरकार आश्रम से बाइक द्वारा बच्चों के साथ एक दंपति अपने घर औरैया जा रहे थे। तभी रसूलाबाद में मवेशियों से बचने के प्रयास में कानपुर से दिल्ली जा रही रोडवेज बस की चपेट में बाइक आ गयी, जिससे महिला की मौके पर ही मौत हो गई। जबकि उसका पति गंभीर रूप से घायल हो गया। घटना से आक्रोशित भीड़ ने सड़क जाम लगाकर हंगामा शुरू कर दिया। हंगामा की सूचना पर उपजिलाधिकारी व पुलिस क्षेत्राधिकारी मौके पर पहुंचे तथा लोगों को समझा कर शांत कराया। वहीं पुलिस ने बस चालक को हिरासत में लेकर कार्यवाही शुरू की है।

 

सड़क पर आया मवेशियों का झुंड

दरअसल जनपद औरैया के थाना बेला के माखन पुरवा निवासी मोहित यादव अपनी पत्नी मिलन एवं बच्चों अश्वनी व तेजस्वी के साथ बाइक से शोभन आश्रम दर्शन के लिए आए थे। दर्शन करने के बाद वे लोग बाइक पर सवार होकर वापस अपने गांव जा रहे थे। अभी वे रसूलाबाद चौराहे पर पहुंचे थे कि इसी बीच आवारा मवेशियों का झुंड सड़क पर आ गया। इस पर पत्नी बाइक रुकवा कर बच्चों को लेकर उतर रही थीं। इसी बीच कानपुर से दिल्ली की ओर जा रही विकास नगर डिपो की रोडवेज बस ने उनकी बाइक में टक्कर मार दी। इससे दोनों बच्चे उछलकर दूर जा गिरे और बस की चपेट में आकर महिला की मौके पर ही मौत हो गई। वहीं मोहित गंभीर रूप से घायल हो गया।

 

बच्चों पर नही आई खरोंच

वहीं टक्कर से दूर गिरे दोनों मासूम बच्चे बाल बाल बच गए। दुर्घटना के बाद मौका पाकर भाग रहे बस चालक को पकड़कर लोगों ने पुलिस के सुपुर्द कर दिया। घटना से गुस्साए लोगों ने सड़क पर जाम लगा हंगामा शुरू कर दिया और भीड़ ने ब्रेकर बनवाए जाने की मांग शुरू की। घटना की सूचना पर पहुंचे उपजिलाधिकारी परवेज अहमद व सीओ आरके मिश्रा ने लोगों को समझाकर शांत कराया। करीब एक घंटे के बाद जाम खुलने से यातायात शुरू हो सका। थानाध्यक्ष रसूलाबाद एसके सिंह ने बताया कि बस चालक मो. जब्बार को हिरासत में ले लिया गया है। शव का पोस्टमार्टम कराने व परिजनों की तहरीर मिलने के बाद मामले में अग्रिम कार्रवाई होगी।

Ad Block is Banned