तीन रक्षा उपकरण फैक्ट्रियों ने देश में रोशन किया कानपुर का नाम

तीन रक्षा उपकरण फैक्ट्रियों ने देश में रोशन किया कानपुर का नाम

Alok Pandey | Publish: Jul, 14 2019 11:17:51 AM (IST) Kanpur, Kanpur, Uttar Pradesh, India

शीष दस आर्डिनेंस फैक्ट्रियों में कानपुर की दो फैक्ट्रियां हुईं शामिल
पैराशूट बनाने वाली ओपीएफ भी रैंक के आखिरी पायदान तक पहुंची

कानपुर। बेहतर क्वालिटी, सुरक्षित उपकरण निर्माण, नए शोध और सेना की जरूरत और मांग के अनुसार रक्षा उपकरणों को तैयार करने में कानपुर की तीन रक्षा उपकरण बनाने वाली फैक्ट्रियों ने नाम रोशन किया है। देश की ४१ आयुध निर्माणियों की रैंकिंग में कानपुर की तीन फैक्ट्रियों ने जगह बनाई है। यह शहर के लिए सचमुच गौरव की बात है।

शीर्ष दस में दो आयुध निर्माणियां
आर्डिनेंस फैक्ट्री बोर्ड ने पहली बार देश की 41 आयुध निर्माणियों की रैंकिंग जारी की है। जिसमें शीर्ष दस फैक्ट्रियों में कानपुर की फील्ड गन फैक्ट्री और आर्डिनेंस फैक्ट्री (ओएफसी) है। आखिरी रैंक ओपीएफ की है। 41 फैक्ट्रियों में चौथे नंबर पर अपनी फील्डगन फैक्ट्री को स्थान मिला है। आठवें नंबर पर आर्डिनेंस फैक्ट्री कानपुर (ओएफसी) है। अपने भीतर 200 वर्षों का स्वर्णिम इतिहास संजोए आर्डिनेंस फैक्ट्रियां थलसेना, वायुसेना और नौसेना के लिए उत्पादन तैयार करती हैं। तोप, गोला, बारूद के अलावा सैन्यबलों की जरूरत का 90 फीसदी सामान इन फैक्ट्रियों में तैयार होता है।

गुणवत्ता के आधार पर तैयार हुई मेरिट
इस मेरिट सूची को देश-विदेश से प्राप्त फीडबैक, गुणवत्ता, शिकायतों के त्वरित निस्तारण, विकास, शोध, कमियों को न दोहराने और सेना की जरूरत व मांग के मुताबिक उत्पादों में बदलाव जैसे तमाम मापदंडों के आधार पर तैयार किया गया है। इस मेरिट में स्थान उन्ही फैक्ट्रियों ने पाया है, जिन्होंने क्वालिटी मापदंडों का सख्ती से पालन किया है। अब तो निगरानी का ऑनलाइन सिस्टम है जिसके आधार पर पूरे डाटा का संग्रह किया जाता है। फिर इस डाटा के अनुसार फैक्ट्रियों की रैंकिंग तय होती है।

सारंग और धनुष ने नाम चमकाया
कानपुर की फील्ड गन फैक्ट्री की चौथी रैंकिंग की उपलब्धि के पीछे सारंग और धनुष जैसी तोप का भी बड़ा योगदान है। फैक्ट्री ने पिछले कुछ सालों में काफी अपग्रेड किया है और ये सिलसिला जारी है। वैश्विक चुनौतियों का सामना कर रहे बोर्ड ने क्वालिटी के मानकों पर फैक्ट्रियों को ध्यान देने को कहा है। इसमें सेना की शिकायतें, ग्राहकों की शिकायतों को आधार बनाया गया है। फिर शिकायतों की संख्या, शिकायतों को कितनी जल्दी दूर किया, शिकायत दूर करने के लिए कैसे-कैसे शोध किए और ग्राहक संतुष्टि को भी शामिल किया गया।

ये हैं देश की शीर्ष दस फैक्ट्रियां
1- कॉरडाइड फैक्ट्री, अरुवंकाडु (ऊटी), 2- आर्डिनेंस फैक्ट्री देहू रोड, 3- आर्डिनेंस केबिल फैक्ट्री चंडीगढ़, 4- फील्ड गन फैक्ट्री कानपुर, 5- आर्डिनेंस फैक्ट्री इटारसी, 6- आर्डिनेंस फैक्ट्री प्रोजेक्ट मेडक, 7- आर्डिनेंस फैक्ट्री भांडरा, 8- आर्डिनेंस फैक्ट्री कानपुर, 9- हैवी व्हैकिल फैक्ट्री, 10- ऑप्टो इलेक्ट्रानिक्स फैक्ट्री

आखिरी की पांच फैक्ट्रियों में कानपुर की ओएफसी
37- हाई एक्सप्लोसिव फैक्ट्री, 38- आर्डिनेंस फैक्ट्री कटनी, 39- एम्युनिशन फैक्ट्री, खडकी, 40- आर्डिनेंस फैक्ट्री बोलनगीर, 41- आर्डिनेंस पैराशूट फैक्ट्री कानपुर

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned