सीएसए में विभागाध्यक्षों की नियुक्ति घिर सकती विवादों में

सीएसए में विभागाध्यक्षों की नियुक्ति घिर सकती विवादों में

Alok Pandey | Publish: Apr, 17 2019 03:26:25 PM (IST) Kanpur, Kanpur, Uttar Pradesh, India

वरिष्ठता को लेकर तीन विभागों में है तनातनी
पांच विभागों में नियुक्त होने हैं नए विभागाध्यक्ष

कानपुर। चंद्रशेखर आजाद कृषि विश्वविद्यालय के हास्टल में जमें बाहरी छात्रों का मसला हल नहीं हो पाया और विभागाध्यक्षों की नियुक्ति को लेकर नई समस्या खड़ी होने वाली है। वरिष्ठता को लेकर चल रही तनातनी के बीच तीन विभागों में विभागाध्यक्षों की नियुक्ति को लेकर विवाद खड़ा हो सकता है। पांच विभागों में विभागाध्यक्षों का कार्यकाल खत्म होने के बाद नई नियुक्तियां होनी हैं।

सेमेस्टर परीक्षा से बदले होनी है नियुक्ति
सीएसए के पांच विभागों में सेमेस्टर परीक्षा से पहले ही पांच विभागाध्यक्ष पदों पर नई नियुक्तियां होनी हैं, जिनमें तीन पद विवादों में हैं। पांचों विभागों के अध्यक्षों का कार्यकाल २८ अप्रैल को खत्म हो रहा है, तब तक नई नियुक्तियां होनी जरूरी हैं, लेकिन पांच में तीन पदों पर प्रोफेसरों के बीच वरिष्ठता को लेकर विवाद चल रहा है, ऐसे में नियुक्ति होने पर विवाद खड़ा हो सकता है।

तीन साल का कार्यकाल
सीएसए में विभागाध्यक्ष का कार्यकाल तीन वर्ष तक का होता है। इसमें वरिष्ठता के अनुसार प्रोफेसरों को जिम्मेदारी दी जाती है। अगर दो प्रोफेसरों की नियुक्ति ड्रेस एक होती है तो ऐसे में प्रोफेसरों की डेट ऑफ बर्थ के आधार पर वरिष्ठता तय होती है, जिसकी आयु अधिक होती है उसे विभागाध्यक्ष पद पर नियुक्ति दे दी जाती है।

हॉस्टल को लेकर भी विवाद
सीएसए के हॉस्टल में बाहरी छात्रों को लेकर भी विवाद चल रहा है। हॉस्टल में रहने वाले छात्रों के साथ गेस्ट बनकर आए बाहरी छात्र भी डेरा जमा चुके हैं। इन्हेें बाहर करने के लिए सीएसए प्रशासन सारे हॉस्टल खाली कराने की तैयारी में है, ताकि सारे छात्रों के साथ बाहरी छात्र भी निकल जाए और फिर नए सिरे से मेधावी छात्रों को हॉस्टल के कमरे आवंटित कर दिए जाएं। इस मामले को लेकर भी हॉस्टल के छात्रों और विवि प्रशासन में विवाद की आशंका बन रही है। हालांकि प्रशासन ने साफ कर दिया है कि अराजकता हुई तो सख्ती बरती जाएगी और बल प्रयोग भी किया जाएगा।

खबरें और लेख पड़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते है । हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते है ।
OK
Ad Block is Banned