अब दो बेटियों वाले परिवार को सरकार से मिलेगा भरपूर लाभ, 23 अगस्त से होगी योजना की शुरुवात

Arvind Kumar Verma

Updated: 15 Aug 2019, 06:12:53 PM (IST)

Kanpur, Kanpur, Uttar Pradesh, India

कानपुर देहात-यूपी की योगी सरकार सूबे में बेटियों को अच्छी शिक्षा प्रदान करने के लिए तमाम जतन कर रही हैं। इसी के चलते 23 अगस्त से कन्याओं को पढ़ाने और लोगो के बेटियों के प्रति भावनाओं को बदलने के लिए आर्थिक सहायता प्रदान करने के उद्देश्य से कन्या सुमंगला योजना का शुभारम्भ करने जा रही है। वहीं इस योजना को सफल बनाने और लोगों तक इसकी जानकारी पहुंचाने के लिए सूबे के आलाधिकारियों से लेकर समस्त जिलों के जिलाधिकारियों और संबंधित अधिकारियों को कड़े निर्देश जारी किये हैं।

 

डीएम व सीडीओ ने अफसरों को दी हिदायत

इसी के चलते कानपुर देहात के जिलाधिकारी कार्यालय सभाकक्ष में जिलाधिकारी राकेश कुमार सिंह की अध्यक्षता में बैठक का आयोजन किया गया। जिसमें स्वास्थ्य विभाग से लेकर शिक्षा विभाग और योजना से संबंधित अधिकारियों को शासन की मंशा अवगत कराने के साथ ही कड़े निर्देश भी जिलाधिकारी राकेश कुमार सिंह ने दिये। साथ ही लापरवाही बरतने वाले अधिकारियों के खिलाफ कड़ी कार्यवाही की चेतावनी भी दी। वहीं बैठक मे मुख्य विकास अधिकारी जोगिन्दर सिंह ने भी अधिकारियों से कन्या सुमंगला योजना को सफल बनाने की अपील की। साथ ही अधिकारियों से अधिक से अधिक लोगो को इसका लाभ दिलाने के निर्देश भी दिये।

 

जिले के सीडीओ ने दी ये जानकारी

मुख्य विकास अधिकारी जोगिन्दर सिंह की माने तो प्रदेश सरकार ने इस योजना को 6 श्रेणी में बांटा हैं। जिसमें लाभार्थियों को 15 हजार तक की सहायता दी जायेगी। इस योजना का लाभ 2 बेटियों वाले परिवार को दिया जायेगा। इस योजना के प्रथम 2 श्रेणियों को चिकित्सा विभाग द्वारा क्रियान्वयन किया जायेगा। स्वास्थ्य विभाग 1 अप्रैल 2019 के बाद जन्मी बच्चियों और 1 अप्रैल 2018 को जिन बच्चियों का टीकाकरण हुआ हैं। वहीं अगली 2 श्रेणियों को बेसिक शिक्षा विभाग द्वारा क्रियान्वयन किया जायेगा। शेष श्रेणियों का क्रियान्वयन जिला विद्यालय निरीक्षक द्वारा किया जायेगा। इस योजना के लाभार्थी को खाते के माध्यम से सहायता उपलब्ध कराई जायेगी।

 

जिलाधिकारी राकेश कुमार सिंह बोले

जिलाधिकारी राकेश कुमार सिंह की माने तो शासन 23 अगस्त को कन्या सुमंगला योजना को लागू करने जा रही हैं। इसी के चलते आज बैठक का आयोजन कर अधिकारियों को आवश्यक दिशा निर्देश दिये गये। इस योजना का लाभ दो बेटियों वाले परिवार को दिया जायेगा। शासन ने इस योजना को 6 श्रेणियों में बांटकर 1 अप्रैल 2019 के बाद जन्मी बच्चियों, उसमें पहले जन्मी बच्चियों, कक्षा 1, 6, 9 और 12 में प्रवेश करने वाली बच्चियों वाले परिवारों को इस योजना का लाभ दिया जायेेगा।

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned