रेड जोन के जिलाधिकारी ने जारी किया नया आदेश, शराब के साथ खुलेंगे ये प्रतिष्ठान और दुकान

सरकार के दिशानिर्देश के बाद जिलाधिकारी ने नई गाडडलाइन के साथ हाॅटस्पाॅट से बाहर के इलाकों में दुकान, फैक्ट्री व परिवहन की दी छूट।

By: Vinod Nigam

Published: 05 May 2020, 02:54 PM IST

कानपुर। कोरोना वायरस के चलते देशभर में 17 मई तक लाॅकडाउन है। इस बीच प्रदेश सरकार के आदेश के बाद रेड जोन कानपुर में जिलाधिकारी ब्रम्हादेव तिवारी ने हाॅटस्पाॅट इलाकों को छोड़ शहरी व ग्रामीण क्षेत्रों में शराब के साथ ही सशर्त कुछ दुकानें खोले जाने की अनुमित दी है। दुकानदारों को कोरोना संक्रमण से बचाव के लिए शारीरिक दूरी के मानक, सेनिटाइजेशन समेत अन्य गाइडलाइन का पूरी तरह पालन करना होगा।

हाॅटस्पाॅट पूरी तरह से लाॅक
जिलाधिकारी डॉक्टर ब्रह्मदेव राम तिवारी के कार्यालय से जारी प्रेस विज्ञृप्ति के अनुसार कानपुर जिला रेड जोन में आता है। यहां पर 45 से ज्यादा हाॅटस्पाॅट हैं। ऐसे में इन सभी इलाकों पर लाॅकडाउन का पालन पहले की तरह कराया जा रहा है। शराब के साथ एकल दुकानें खोली जाएंगी। खरीदार से लेकर विक्रेता को माॅस्क के साथ ही सोशल डिस्टेसिंग का पालन करना होगा। जो भी नियमों के विरूद्ध जाएगा उस पर कड़ी कार्रवाई होगी।

फैक्ट्री के साथ इन्हें मिली अनुमति
कानपुर के औद्योगिक क्षेत्र (पनकी 12345) दादा नगर, फजलगंज, चकेरी व रूमा स्थित सभी समस्त इकाइयों के खोलने की अनुमति दे दी गई है। इसके अलावा दवा, औषधि, चिकित्सकीय उपकरण ,आईटी हार्डवेयर व पैकेजिंग मैटेरियल, कच्चे माल कृषि एवं कृषि कार्य से संबंधित समस्त इकाइयों के शुरू किए जाने के आदेश दे दिए गए हैं। एकल दुकाने (एक स्थान पर एक ही दुकान) खोलने की अनुमति है, लेकिन कॉलोनी और आवासीय परिसर के अंदर की दुकानें सुबह 10 बजे से शाम 5 बजे तक की ही खुलेंगी।

परिवहन की दी छूट
हॉट स्पॉट क्षेत्र के बाहर की राज्य व भारत सरकार की सभी राष्ट्रीय महत्व की निर्माण परियोजना को अनुमति प्रदान की गई है। सभी प्रकार के मालध्वस्तूओं के लॉजिस्टिक्स एवं परिवहन जिसमें खाली ट्रक भी सम्मिलित है के अंतरराज्यीय परिवहन की पूरी अनुमति प्रदान की गई है। शहरी क्षेत्र में नगर निगम और नगर पालिकाओ की सीमा के अंदर आने वाले सभी मॉल मार्केट कांप्लेक्स एवं मार्केट बंद रहेंगे। हालांकि आवश्यक वस्तुओं की बिक्री से संबंधित दुकाने मार्केट मार्केट कांप्लेक्स में खोलने की अनुमति प्रातः 10 से 5 बजे तक की होगी। किराना गल्ला आदि की थोक बिक्री की सेवाएं सुबह 7 से 12 दोपहर तक ही खुलेंगी।

ये दुकानें भी खुलेंगी
गाड़ी वाहन मरम्मत इलेक्ट्रिशियन कारपेंटर प्लंबर, स्कूल कम्प्यूटर हार्डवेयर, साफ्टवेयर स्कूल की पुस्तकें, किताबें स्टेशनरी के इलेक्टिकल की दुकानें मंगलवार से खुल गई हैं। भवन निर्माण से संबंधित सभी दुकानें सुबह 7 बजे से शाम 5 बजे तक खुली रहेगी। ई-कॉमर्स सेवाओं की केवल बहुत ही जरूरी सामान के संबंध में ही अनुमति दी गई है। इसके अलावा चार पहिया वाहन में ड्राइवर के अतिरिक्त अधिकतम 2 यात्री व दोपहिया में केवल एक व्यक्ति की ही अनुमति है।

ग्रामीण क्षेत्र की औद्यौगिक इकाईयां शुरू
ग्रामीण क्षेत्रों की समस्त औद्योगिक इकाईयों के शूरू किए जाने के आदेश दिए गए हैं। ऐसे प्रतिष्ठान जहां पर 50 से अधिक श्रमिक हो सार्वजनिक परिवहन प्रणाली के स्थान पर 50ः यात्री क्षमता के साथ विशेष परिवहन की व्यवस्था की जाए। परिसर में प्रवेश करने वाले सभी वाहनों मशीनरी को अनिवार्य रूप से सैनिटाइज किया जाए। कार्य स्थल पर प्रवेश और बाहर निकलने पर थर्मल स्कैनिंग अनिवार्य। कर्मियों श्रमिकों के लिए चिकित्सा बीमा अनिवार्य किया जाए। स्पर्श मुक्त तंत्र के साथ हाथ धोने और सैनिटाइज करने की पर्याप्त व्यवस्था सभी प्रवेश और निकासी बिंदुओं पर सुनिश्चित की जाएगी। सभी कर्मियों को अनिवार्य रूप से मास्क उपलब्ध कराया।

इन नियमों का करना होगा पालन
कार्यस्थलों, सभाओं, बैठकों, प्रशिक्षण सत्रों में व्यक्ति एक दूसरे से कम से कम 6 फीट की दूरी पर बैठेंगे। दो या चार से अधिक व्यक्तियों को लिफ्ट के अंदर के आधार पर लिफ्ट के उपयोग की अनुमति नहीं होगी। गुटखा तंबाकू पर प्रतिबंध, थूकना पूरी तरह से प्रतिबंधित रहेगा। कार्यस्थल पर आसपास के क्षेत्रों में कोविड-19 के उपचार के लिए अधिकृत चिकित्सालयों की सूची हर समय उपलब्ध होनी चाहिए। किसी भी व्यक्ति को कार्य स्थल पर जाने के लिए आरोग्य सेतु ऐप डाउन लोड करना अनिवार्य होगा।

सीएमओ को देनी होगी रिपोर्ट
50 से अधिक कर्मचारियों वाले प्रतिष्ठानों को संचालन से पूर्व 25 कर्मियों की सीमा के अधीन अपने कुल कर्मचारियों के रेंडम आधार पर कम से कम पांच कर्मियों का आरटी-पीसीआर विधि से परीक्षण करना होगा। उसके बाद प्रत्येक 15 दिनों पर 5 अथवा अधिकतम 10 कार्मिकों का रिंगटोन आधार पर परीक्षण किया जाए। टेस्टिंग रिपोर्ट मुख्य चिकित्साधिकरी को प्रस्तुत की जाएगी। उपरोक्तनुसार संचालित की जाने वाली गतिविधियों में सोशल डिस्टेंसिंग एवं सैनिटाइजेशन का पूर्ण रुप से पालन करने की बाध्यता इकाई, प्रतिष्ठान स्वामी की होगी।

इस एक्ट के तहत कार्रवाई
डीएम ने बताया कि हरदिन सेक्टर मजिस्ट्रेट शहर पर नजर रखेंगे और जहां पर नियमों का पालन नहीं होगा उन पर कार्रवाई की जाएगी। डीएम ने बताया सोमवार को शराब की दुकानों में कहीं-कहीं सोशल डिस्टेसिंग का पालन नहीं करने की जानकारी मिली है। ऐसे में अब दुकानदार और खरीदार को जवाबदेही तय की गई है। डीएम ने कहा दिशा निर्देशों के उल्लंघन पर आपदा प्रबंधन अधिनियम 2005 की धारा 51 से 60 भादवि की तथा धारा 188 में दिए गए प्रावधानों के अंतर्गत कार्रवाई की जाएगी।

Corona virus
Show More
Vinod Nigam
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned