डबल मर्डर से दहल गया पूरा जिला, पुलिस फोरेंसिक व एसओजी टीम खुलासे में जुटी, जानिए दर्दनाक हादसा

बुजुर्ग दम्पति अपने नाती नातिन के साथ खेत मालिक के फार्म हाउस पर रहते थे। बीती रात हत्यारों ने बेरहमी से धारदार हथियार से काटकर हत्या कर दी। पुलिस फोरेंसिक टीम खुलासे मे जुटी है।

कानपुर देहात-डबल मर्डर से एक बार फिर कानपुर देहात दहल गया। घटना की सूचना मिलते ही पुलिस महकमे में सनसनी फैल गयी। दरअसल देर रात हत्यारों ने घर मे घुसकर बुज़ुर्ग दम्पत्ति को कुल्हाड़ी से काटकर बेरहमी से मौत के घाट उतार दिया। परिजनों की माने तो बुज़ुर्ग दम्पत्ति की हत्या पारिवारिक रंजिश के चलते की गयी है। घटना के बाद दलपतपुर गांव के लोग सहम गए। घटना की जानकारी लगते ही पुलिस मौके पर पहुंची और छानबीन शुरू की। फिलहाल दोनो शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया है। अब पुलिस हत्या का खुलासा करने के लिए फारेंसिक टीम, डॉग स्क्वायड और एसओजी टीम का सहारा ले रही है।

 

कुल्हाड़ी से की गई बुजुर्ग दंपति की बेरहमी से हत्या

कानपुर देहात में उस वक्त हडकंप मच गया, जब गजनेर थाना क्षेत्र के दलपतपुर गांव में एक बुज़ुर्ग दम्पत्ति की कुल्हाड़ी से काट कर निर्मम हत्या कर दी गयी। दरअसल दलपतपुर गांव में बुज़ुर्ग दम्पत्ति राम स्वरूप और उनकी पत्नी कुंती देवी कपिल मिश्रा के फार्म हाउस में रहते थे और कपिल मिश्रा की ही ज़मीन बटाई पर लेकर खेती कर रहे थे। वे फार्म हाउस में अपनी नातिन खुशी और नाती राज के साथ रहकर फार्म हाउस की देखरेख भी करते थे। वहीं देर रात किसी ने फार्म हाउस में ही राम स्वरूप और कुंती देवी की कुल्हाड़ी से काट कर हत्या कर दी। जिस वक्त बुज़ुर्ग दम्पत्ति की हत्या की गई। उस वक्त घर में उनके साथ उनकी नातिन खुशी और नाती राज मौजूद था लेकिन हत्यारों ने उन्हें हाँथ नही लगाया।

 

भाई की शक की सुई बहन पर घूमी

दरअसल राम स्वरूप की बेटी रेखा की शादी के बाद दो बच्चे थे। कुछ समय पहले रेखा ने अपने पति व बच्चों को छोड़कर नज़दीक के गांव में रहने वाले दीपक पासवान से शादी कर ली थी। जिसके बाद दोनों मासूम बच्चे खुशी और राज अपने नाना नानी के साथ रहते थे। देखा जाए तो दोनो मासूम बच्चे चश्मदीद हैं। अपनी नाना नानी की हत्या से दोनों बच्चे ख़ौफ़ज़दा है और सिर्फ इतना बता रहे है कि कोई मोटरसाइकल से आया था, जिससे वो दोनों भय की वजह से अंदर कमरे में छुपे रहे। वही मृतक दम्पत्ति के बेटे का आरोप है कि उनके माता पिता की हत्या में कही ना कही उनकी बहन रेखा का हाँथ हो सकता है, क्योंकि राज और खुशी को लेने अक्सर रेखा आती थी लेकिन नाना राम स्वरूप राज और खुशी को देने को तैयार नही थे, जिसको लेकर झगड़ा होता था।

वहीं पुलिस ने दोनों शव कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है। मामला सुलझाने के लिए पुलिस डॉग स्क्वायड, फारेंसिक टीम का सहारा ले रही है। पुलिस भी मान रही है कि बुज़ुर्ग दम्पत्ति की हत्या पारिवारिक रंजिश के चलते की गई है और जल्द ही इस दोहरे हत्याकांड का खुलासा किया जाएगा।

Arvind Kumar Verma
और पढ़े
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned