शोक में शरीक होने शहीद के घर पहुंचे पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव, यहाँ उन्होने प्रधानमंत्री मोदी की बताई बड़ी बात

Arvind Kumar Verma

Publish: May, 19 2019 09:27:55 PM (IST)

Kanpur, Kanpur, Uttar Pradesh, India

कानपुर देहात-जम्मू कश्मीर के शोपियां में आतंकियों से हुई मुठभेड़ में कानपुर देहात का लाल रोहित यादव शहीद हो गए था। उनका पार्थिव शरीर गुरुवार को उनके घर डेरापुर पहुंचा तो समूचा जनपद रो पड़ा। आम जनता, जनसेवी और समाजसेवी परिजनों को ढांढस बंधाने पहुंचे लेकिन श्रद्धांजलि देने के लिए बीजेपी का कोई भी बड़ा नेता नही पहुंच था। शहीद हुए जवान रोहित के घर पर परिजनों को सांत्वना देने रविवार को पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव पहुंचे। करीब आधा घण्टा शहीद के घर में रुककर उन्होंने परिवार के लोगों से वार्ता की और उन्हें इस दुख की सहने की हिम्मत दी।

 

वही पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने मीडिया से वार्ता की। वार्ता के दौरान पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने कहा कि अगर हमारी सरकार होती तो मैं ऐसे परिवारों की मदद एक करोड़ से करता, फिर भी हम इस परिवार की हर संभव मदद करेंगे। उन्होंने कहा कि अगर दिल्ली में हमारी सरकार बनी तो हम शहीद परिवारों की एक करोड़ से मदद करेंगे। उन्होंने पीएम नरेंद्र मोदी पर तंज कसते हुये कहा कि आज देश के प्रधानमंत्री जी जिस समय गुजरात के मुख्यमंत्री थे, उस समय महाराष्ट्र में एक घटना हुई थी।

 

आतंकवादियों से लड़ते लड़ते वहां का एक अधिकारी शहीद हो गया था। उस समय गुजरात के मुख्यमंत्री होने के नाते उन्होंने उस परिवार की एक करोड़ से मदद की थी। अब वो प्रधानमंत्री है, क्यों नही शहीद के परिवार की एक करोड़ से मदत करते है। मै कहना चाहता हूँ कि वो गुफा छोड़कर बाहर आएं और परिवार की एक-एक करोड़ से मदद करें। मैं आज शहीद परिवार वालों से मिला हूँ। उन्होंने कहा कि देश मे कई आतंकी हमले भी हुए है, पुलवामा वाली घटना हुई हो या उसके बाद जब कभी हमें मौका मिला, हम शहीद के परिवार वालों से मिलते हैं।

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned