मंदिर में दर्शन करने वाले श्रद्धालुओं पर दिखा वायरस का भय, बारी बारी से किए आदिशक्ति के दर्शन

वायरस के प्रकोप के चलते लोग मातारानी की पूजा अर्चना करने के लिए मंदिर नहीं पहुंचे।

कानपुर देहात-देश में कोरोना वायरस का ऐसा प्रकोप बरस रहा है कि लोग घरों में रहकर प्रधानमंत्री का समर्थन कर रहे हैं। हालात ये हैं कि लोग घर के दरवाजे बन्द कर बच्चों को कैद किए हुए हैं। बच्चों की किलकारियां अब गलियों की बजाय घरों में सुनाई दे रही हैं। आपको बता दें कि चैत्र की नवरात्रि के महापर्व पर जहां देवी मंदिरों में श्रद्धालुओं का सैलाब उमड़ता था, वहीं कोरोना वायरस के प्रकोप के चलते लोग मातारानी की पूजा अर्चना करने के लिए मंदिर नहीं पहुंचे। या यूं कहे कि प्रधानमंत्री की अपील को मानते हुए लोगों ने वृत रखकर घरों में ही आदिशक्ति की पूजा अर्चना करते दिखे।

कानपुर देहात में इसका मिलाजुला असर दिखाई दिया। कानपुर देहात के झींझक नगर में सर्वधर्म धाम देवी मंदिर में कुछ महिलाएं पूजन के लिए पहुंची तो मंदिर के पुजारी ने पूजन के बाद घर पर ही पूजन करने की अपील महिलाओं से की। उन्होंने कहा कि इस समय देश में बड़ी विपदा आई है। देश के प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने लॉकडॉउन करने की अपील देशवासियों से की है। इसलिए सभी लोग घर में रहकर पूजन हवन कर मातारानी से देश की सुरक्षा और देशवासियों की रक्षा की कामना करें, जिससे लोगों का जीवन सुरक्षित रहे। उन्होंने कहा कि आज प्रथम दिन श्रद्धालु आए तो मंदिर का गेट खोलना पड़ा लेकिन कल से मंदिर के कपाट बंद रहेंगे। जिससे राजाज्ञा का अनुपालन हो सके और देशवासी सुरक्षित रहें।

Show More
Arvind Kumar Verma
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned