मुश्किल लक्ष्य को भी तबाह करने में सक्षम है पिनाका गाइडेड मिसाइल, कानपुर में तैयार मिसाइल की जानिए खूबियां

पिनाका गाइडेड मिसाइल है। इसकी यह खूबी है कि इसे लक्ष्य पर निशाना साधकर दागा जा सकेगा।

By: Arvind Kumar Verma

Published: 19 Mar 2021, 02:33 PM IST

पत्रिका न्यूज नेटवर्क
कानपुर. शक्तिशाली एवं लक्ष्य को भेदने वाले हथियारों को तैयार करने में कानपुर की ऑर्डिनेंस फैक्ट्री (OFC Kanpur) एवं गन फैक्ट्री (Gun Factory Kanpur) का उत्तम स्थान रहा है। वहीं अब नई पिनाका गाइडेड मिसाइल (Pinaka Guided Missile) का एडवांस रूप तैयार कर अपनी श्रेष्ठता फिर दिखाई है। इससे पहले शारंग (Sharang Missile) और धनुष (Dhanush Missile) को तैयार किया गया था। लेकिन बार ऑर्डिनेंस डेवलपमेंट सेंटर (Ordnance) ने पिनाका मिसाइल का एडवांस रूप तैयार किया है। पिनाका गाइडेड मिसाइल है। इसकी यह खूबी है कि इसे लक्ष्य पर निशाना साधकर दागा जा सकेगा। ओएफसी के महाप्रबंधक (OFC General Manager) एएन श्रीवास्तव तथा फील्ड गन फैक्ट्री के महाप्रबंधक गिरीश चंद्र अग्निहोत्री ने इसकी जानकारी दी।

बताया गया कि ओएफसी ने पिनाका मार्क-1 का एडवांस संस्करण भी लांच कर दिया है, जो एक गाइडेड मिसाइल है। इसकी अहम खासियत है कि यह मिसाइल मुश्किल लक्ष्य को तबाह करने में सक्षम है। इसमें व्यक्ति, बंकर, बेड़े, तोप आदि को टारगेट करके फीड करने के बाद निशाना साधकर दागा जा सकता है। इसके अतिरिक्त निशाना दागने के बाद भी इसकी दिशा में बदलाव किए जा सकते हैं। बताया कि इस मिसाइल का सबसे संवेदनशील पार्ट स्टेबलाइजर 12 दिन में फाइनल कर दिया जाएगा।

यह भी पढें: 16 साल पहले संयुक्त अरब अमीरात से स्क्रैप में आईं थीं मिसाइले, अब महाराष्ट्र में नष्ट करने की तैयारी

कानपुर के अर्मापुर में ओएफसी के महाप्रबंधक एएन श्रीवास्तव ने बताया कि धनुष और शारंग को पूर्णतया कानपुर सेंटर ने विकसित किया है। पिछले साल 10 शारंग की डिलीवरी की गई थी। इस साल अभी तक 21 की डिलीवरी की जा चुकी है जबकि 14 लाइन में है। धनुष में कुछ तकनीकी समस्या आ गई थी, जिसे दूर कर दिया गया है। जल्द इसका भी बल्क प्रोडक्शन शुरू किया जाएगा।

Arvind Kumar Verma
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned