मैन्यूफैक्चरिंग कारोबारियों में मची खलबली, 476 कारोबारियों पर लगाया गया जुर्माना

-मैन्युफैक्चरिंग कारोबारियों पर खाद्य विभाग ने लगाया जुर्माना
-वित्तीय वर्ष 2020-21 का ब्योरा न देने पर खाद्य विभाग ने की कार्रवाई

By: Arvind Kumar Verma

Updated: 15 Sep 2021, 12:42 PM IST

पत्रिका न्यूज नेटवर्क
कानपुर. नोटिस मिलने के बावजूद वित्तीय वर्ष 2020-21 का ब्योरा न देने पर 476 कारोबारियों (Manufacturing Traders) पर जुर्माना लगाया गया है। खाद्य विभाग (Food Department) द्वारा यह कार्रवाई की गई। खाद्य विभाग ने प्रतिदिन के हिसाब से जुर्माना लगाया है। इन सभी कारोबारियों (Penalty On Traders) को एक सितंबर से 100 रुपए प्रतिदिन के हिसाब से जुर्माना देना होगा। वहीं सभी मैन्यूफैक्चरिंग कारोबारियों को एफडीए (FDA) ने फिर से नोटिस जारी करके जल्द से जल्द लेखा-जोखा भरने का निर्देश दिया है।

बता दें कि कोविड के चलते 31 मार्च की बजाए सभी मैन्यूफैक्चरिंग कारोबारियों को 31 अगस्त तक 2020-21 का वित्तीय लेखा-जोखा ऑनलाइन भरकर खाद्य सुरक्षा एवं औषधि प्रशासन को भेजना था। इसके बावजूद 476 कारोबारियों ने आय-व्यय का कोई भी ब्योरा भरकर नहीं दिया है। बताया गया कि इसके लिए कई नोटिस भेजी गई बावजूद किसी ने ब्योरा भरकर नहीं दिया है। अभिहित अधिकारी वीपी सिंह ने बताया कि एक सितंबर से सभी मैन्यूफैक्चरिंग कारोबारियों पर 100 रुपए प्रतिदिन के हिसाब से जुर्माना लग रहा है।

Arvind Kumar Verma
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned