तमंचे के बल पर कारोबारी को लूटा, जान पर खेलकर लूटेरे को दबोचा

Vinod Nigam

Publish: Oct, 13 2018 08:43:04 PM (IST)

Kanpur, Uttar Pradesh, India

कानपुर। पिछले एक साल से शहर में अपराध चरम पर हैं तो अपराधी बेलगाम, जिन्हें रोकने के लिए सीएम योगी आदित्यनाथ के सिंघम पूरी तरह से नाकाम साबित हो रहे हैं। देररात चकेरी थानाक्षेत्र के श्यामनगर सी ब्लॉक स्थित दो बाइकों में सवार छह बदमाशों ने नयागंज के एक करोबारी को तमंचे के बल पर लूट लिया। वारदात को अंजाम देकर आरोपी फरार होने लगे। इसी दौरान कारोबारी के बेटे ने उनका पीछा कर कुछ दूरी पर जाकर कार से टक्कर मार दी। जिसके चलते तीन बदमाश गिर गए। दो तो भागने में सफल रहे, जबकि एक को पब्लिक की मदद से उसने दबोच लिया। पकड़े गए बदमाश के पास एक तमंचा व जिंदा कारतूत मिले। सूचना पर पहुंची पुलिस ने उसे अरेस्ट कर थाने ले गई। जहां पूछताछ के दौरान उसने अपना नाम भन्नानापुरवा निवासी रिंकू बताया।

घर के बाहर वारदात को दिया अंजाम
महेंद्र पांडेय की नयागंज में किराने की दुकान है। साथ में उनका बेटा सुमित भी बैठता है। महेंद्र रोज की तरह अपने बेटे व नौकर जीवन के साथ रात 11 बजे अपने घर लौट रहे थे। घर पहुंचते ही पांडेय ने चार लाख रूपयों से भरा बैग लेकर नीचे उतरे, तभी दो बाइकों में छह बदमाश आ धमके। दो बदमाश बाइक से उतरे और महेंद्र पर तमंचा तानकर जान से मारने की धमकी देते हुए नकदी से भरा बैग लूट लिया। बाकी तीन बदमाशों ने कार के पास खड़े आकर सुमित व जीवन पर तमंचा तानकर धमकी दी। बैग लूटते ही दोनों बदमाश अपने तीसरे साथी के साथ बैठकर भागने लगे। करोबारी के बेटे ने बदमाशों का पीछा कर लिया कार से उनकी बाइक में टक्कर मार दी। लुटेरे बाइक समेत गिर पड़े। शोर सुन लोग भी निकले और उन्होंने एक बदमाश को दबोच लिया।

...तो जा सकती थी जान
करोबारी के बेटे ने बताया कि बाइक से गिरते ही दो लुटेरे घायल अवस्था में भागने में कामयाब रहे। जबकि उनकी तीसरा साथ रिंकू मेरे हत्थे लग गया। आरोपी ने पहले तमंचे से मुझ पर फायर करने के इरादे से ट्रिगर दबाया पर कारतूत मिस हो गई। इसी का फाएदा मैंने उठाया और उसके हाथ से तमंचा छीन कर पकड़ लिया। दो अन्य बदमाशों को अपेन साथी के पकड़े जाने की जानकारी हुई तो वो मौके पर आए, लेकिन लोगों की भीड़ देख भाग खड़े हुए। सुमित ने बताया कि सभी बदमाशों ने अपने चेहरे ढके हुए थे। वारदात के वक्त तीन आरोपी मुझ पर तमंचा ताने थे जबकि दो ने पापा का बैग छीना था।

दुकान से कर रहे थे पीछा
पकड़े गए आरोपी ने पुलिस को बताया कि वो लोग कारोबारी का पीछा दुकान से कर रहे थे, लेकिन बीच रास्ते में ट्राफिक ज्यादा होने के चलते वारदात को अंजाम नहीं दे सके। उसने अपने बाकी पांच साथियों के नाम भी बताए हैं, पुलिस उनकी तलाश में अनवरगंज, चमनगंज, सुजातगंज क्षेत्र में संभावित ठिकानों पर दबिश दे रही है। देर रात एसएसपी अनंत देव तिवारी ने भी आरोपित से पूछताछ की और लुटेरों की तलाश में चार टीमें लगा दी हैं। एसएसपी ने बताया कि लुटेरे का अपराधिक इतिहास भी निकलवाया जा रहा है। पहले भी वह लूटपाट कर चुका है। उसके साथियों को जल्द पकड़ लिया जाएगा।

Ad Block is Banned