विद्युत तार बने तीन घरों के लिए काल, मच गई गांव में तबाही

विद्युत तार बने तीन घरों के लिए काल, मच गई गांव में तबाही

Arvind Kumar Verma | Updated: 27 May 2019, 02:17:41 PM (IST) Kanpur, Kanpur, Uttar Pradesh, India

उपजिलाधिकारी जेपी पांडेय ने बताया है कि जानकारी मिलते ही लेखपाल को घटनास्थल भेजा गया, क्षति आंकलन के हिसाब सहायता राशि दी जाएगी।

कानपुर देहात-रसूलाबाद क्षेत्र के कसमड़ा गांव में तेज हवाओं के प्रकोप से बिजली के तारों में शार्ट सर्किट हो जाने से चिंगारी एक घर में जा गिरी, इससे घर मे आग लग गई। आग ने विकराल रूप लेकर पड़ोस के दो और घरों को चपेट में ले लिया। जिससे तीनों घर धूं धूंकर जलने लगे। इससे घरों में रखा अनाज सहित गृहस्थी का सामान जलकर राख हो गया है। ग्रामीणों के मुताबिक अचानक बिजली के तारों में शॉर्ट सर्किट हुआ, लेकिन चिंगारी ने कब आग का रूप लिया, कोई नही समझ सका। घटना की सूचना पर पहुंची दमकल ने ग्रामीणों की सहायता से आग पर काबू पाया। इसके बाद ग्रामीणों को राहत मिल सकी।

 

कानपुर देहात के रसूलाबाद कोतवाली क्षेत्र के कसमड़ा गांव में तारों में अचानक शॉर्ट सर्किट होने लगा। जिसकी चिंगारी गांव निवासी राधेश्याम के घर में जा गिरी और तेज लपटों के साथ घर मे रखा अनाज व गृहस्थी का सामान जलने लगा। इस भीषड़ आग से घर मे रखे 20 बोरी गेंहू, 20 कुन्तल भूसा व गृहस्थी का सामान जल गया। तेज हवाओं के प्रकोप से आग ने इतना भयावह रूप ले लिया कि समीप के संतोष व राजेश के घरों को भी चपेट में ले लिया। कुछ ही पलों में इन दोनों घरो में रखा गृहस्थी का सामान व अनाज जलकर राख हो गया है।

 

आग का प्रचंड रूप देख गांव में हड़कम्प मच गया, अफरा तफरी का माहौल बन गया। आग की लपटों को उठता देखकर ग्रामीण ने फायर ब्रिगेड को सूचना दी है। मौके पर पहुँची फायर ब्रिगेड की गाड़ी ने ग्रामीणों की सहायता से आग पर काबू पाया। उपजिलाधिकारी जेपी पांडेय ने बताया है कि जानकारी मिलते ही लेखपाल को घटनास्थल भेजा गया, क्षति आकलन के हिसाब सहायता राशि दी जाएगी।

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned