अगले साल से आरटीओ में शुरू होगा ऑनलाइन सिस्टम, तीन लाख से ज्यादा लोगों को मिलेगी राहत

अगले साल से आरटीओ में शुरू होगा ऑनलाइन सिस्टम, तीन लाख से ज्यादा लोगों को मिलेगी राहत

Alok Pandey | Publish: Nov, 27 2018 02:53:57 PM (IST) Kanpur, Kanpur, Uttar Pradesh, India

ड्राइविंग लाइसेंस समेत दूसरी कई सुविधाओं के साथ अब ट्रांसपोर्ट विभाग 7 सीटों से ज्‍यादा प्राइवेट व कॉमर्शियल व्हीकल्स की फिटनेस को भी ऑनलाइन करने जा रहा है. मध्‍यम व हैवी व्हीकल्स की फिटनेस सुविधाएं ऑनलाइन होने से तीन लाख से ज्यादा कानपुरवासियों को राहत मिलेगी.

कानपुर। ड्राइविंग लाइसेंस समेत दूसरी कई सुविधाओं के साथ अब ट्रांसपोर्ट विभाग 7 सीटों से ज्‍यादा प्राइवेट व कॉमर्शियल व्हीकल्स की फिटनेस को भी ऑनलाइन करने जा रहा है. मध्‍यम व हैवी व्हीकल्स की फिटनेस सुविधाएं ऑनलाइन होने से तीन लाख से ज्यादा कानपुरवासियों को राहत मिलेगी. यह सुविधा 2019 जनवरी से कानपुर में शुरू हो जाएगी.

ऐसी मिली है जानकारी
एआरटीओ आदित्य त्रिपाठी के मुताबिक कानपुर में लगभग ढाई लाख कॉमर्शियल वाहन हैं. करीब 50 हजार निजी वाहन 7 सीट्स और उससे ज्यादा के हैं. व्हीकल फिटनेस की ऑनलाइन सुविधा मिलने से कानपुराइट्स को राहत मिलेगी. उन्होंने बताया कि ट्रांसपोर्ट विभाग ने यह सुविधा ट्रायल के तौर पर यूपी के दो जिलों में शुरू की है. 2019 जनवरी से यह सेवा कानपुर में भी मिलेगी. उसके बाद यहां के लोगों को भी इस क्रम में कई तरह की सुविधा मिल जाएगी. उन्‍हें आरटीओ से संबंधित छोटे-छोटे कामों के लिए यहां के चक्‍कर बार-बार नहीं लगाने पड़ेंगे.

करना होगा ये काम
व्हीकल फिटनेस ऑनलाइन होने के बाद वाहन मालिक भी ऑनलाइन एप्लीकेशन के साथ निर्धारित फीस जमा कर अपने मन मुताबिक तारीख बुक कर सकते हैं. इसके बाद उसे निर्धारित तारीख को अपना वाहन लेकर आरटीओ ऑफिस जाकर वाहन को आरआई से चेक कराना होगा. ऐसा करने से वाहन मालिक का समय तो बचेगा ही, इसके साथ ही उन्‍हें बार-बार चक्‍कर काटने की असुविधा से भी मुक्‍ति मिल जाएगी और आसानी के साथ उनके काम हो सकेंगे.

चाहिए होंगे ये डॉक्यूमेंट्स

1. व्हीकल की टैक्स रसीद

2. व्हीकल का इंश्योरेंस

3. पॉल्यूशन सर्टिफिकेट

ऐसा कहते हैं अधिकारी
इस बारे में कानपुर के आरटीओ संजय सिंह कहते हैं कि ट्रांसपोर्ट विभाग ने ट्रायल के तौर पर कुछ जिलों में वावहनों की फिटनेस को ऑनलाइन कर दिया है. 2019 जनवरी से कानपुर वासियों को भी इसका फायदा मिल सकेगा. तब तक के लिए शहर वासियों को इसका इंतजार करना होगा.

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned