सरकार ने डॉयल 112 सेवा को किया और हाईटेक, महिलाओं को बड़ी राहत, प्रथम चरण में यहां सेवा शुरू

पुलिस कप्तान ने डॉयल 112 की तीन गाड़ियों को हरी झंडी दिखाकर रवाना भी किया है।

कानपुर देहात-महिलाओं की सुरक्षा को लेकर सरकार हमेशा गंभीर रही है। इसके चलते 1090 जैसी सेवाएं दी गई है। वहीं अब दिन के साथ साथ रात्रीबेला में भी महिलाओं की सुरक्षा के दृष्टिकोण से पुलिस व्यवस्था में नई पहल शुरू की गई है। इसके तहत अब जनपद कानपुर देहात के सिकंदरा, अकबरपुर व भोगनीपुर थाने के द्वारा प्रथम चरण में सेवा शुरू की है। इसमें रात्रि के समय पीआरवी मोबाइल में महिला पुलिस कर्मियों को तैनात करने का निर्देश दिया गया है। इसका शुभारंभ जिले के पुलिस कप्तान अनुराग वत्स ने डॉयल 112 की तीन गाड़ियों को हरी झंडी दिखाकर रवाना भी किया है। अब रात के समय भी किसी भी समय महिलाएं डॉयल 112 सेवा का लाभ लेकर महफूज रह सकती हैं।

उन्होंने बताया कि इसके तहत दिन व रात में अलग अलग महिला पुलिस कर्मियों को तैनाती दी गई है। सिकंदरा थाने की पीआरवी में आरक्षी प्रियंका व देवेश कुमारी की दिन में एवं आरक्षी रानी देवी व रंजना सोनकर की रात्रि में डयूटी रहेगी। अकबरपुर कोतवाली की पीआरवी में महिला मुख्य आरक्षी रामादेवी व आरक्षी संगीता देवी की दिन एवं आरक्षी अनुराधा सिंह व आरती की रात्रि में डयूटी रहेगी। वहीं भोगनीपुर पीआरवी में आरक्षी शिखा व तनुजा दुबे की दिन एवं आरक्षी रश्मि देवी व गीता पाल की रात में डयूटी लगाईं गई है। सरकार द्वारा शुरू की गई इस अनूठी पहल से अब महिलाएं रात में किसी भी विपत्ति पर डॉयल 112 नंबर डायल कर महिला पुलिस की मदद ले सकती हैं।

Arvind Kumar Verma
और पढ़े
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned