scriptGram pradhan resignation to DM from post due to curruption blemmed | भ्रष्टाचार से क्षुब्ध प्रधान ने दे दिया इस्तीफा, त्यागपत्र में बयां किया अपना दर्द, बोले बिना रिश्वत कोई काम नहीं होता | Patrika News

भ्रष्टाचार से क्षुब्ध प्रधान ने दे दिया इस्तीफा, त्यागपत्र में बयां किया अपना दर्द, बोले बिना रिश्वत कोई काम नहीं होता

अजीत के अनुसार इससे तंग आ चुका हूं। इसलिए उन्हें पद पर बने रहने का कोई अधिकार नहीं है।

कानपुर

Published: October 23, 2021 11:06:13 am

पत्रिका न्यूज नेटवर्क
कानपुर. अफसरों व कर्मचारियों पर भ्रष्टाचार का आरोप लगा सिधौल ग्रामसभा के प्रधान अजीत सचान (Gram Pradhan Resign) ने जिलाधिकारी को अपना त्यागपत्र भेजा है। प्रधान के मुताबिक ब्लॉक के कर्मचारी और अफसर बिना रिश्वत कोई काम नहीं करते। हर काम के बदले उन्हें रुपए चाहिए। सही मायने में पात्रों को भी योजना का लाभ देने के लिए पैसे की डिमांड करते हैं। प्रत्येक काम के लिए रिश्वत का रेट निश्चित है।
भ्रष्टाचार से क्षुब्ध प्रधान ने दे दिया इस्तीफा, त्यागपत्र में बयां किया अपना दर्द, बोले बिना रिश्वत कोई काम नहीं होता
भ्रष्टाचार से क्षुब्ध प्रधान ने दे दिया इस्तीफा, त्यागपत्र में बयां किया अपना दर्द, बोले बिना रिश्वत कोई काम नहीं होता
पात्र भटक रहे और अपात्रों को लाभ

इससे क्षुब्ध होकर ग्राम प्रधान ने गुरुवार को स्पीड पोस्ट के जरिए भेजे त्यागपत्र में बताया कि चुनाव के समय रिश्वतखोरी बंद कराने का जनता से वादा किया था। इसके बाद 80 फीसदी वोट पाकर प्रधान निर्वाचित हुए थे। अपनी समस्याएं लेकर लोग उनके पास आ रहे हैं, लेकिन वह निस्तारण नहीं करा पा रहे हैं। उन्होंने आरोप लगाया है कि जिनके पास चार पहिया वाहन हैं उनके अंत्योदय कार्ड बना दिए गए, जबकि पात्र महीनों से भटक रहे हैं। ऐसे ही वृद्ध पात्रों को वृद्धावस्था पेंशन नहीं दिला पाए, जबकि कई अपात्र इसका लाभ उठा रहे हैं।
बोले इन हालात में उन्हें पद पर रहने का हक नहीं

इन दोनों मामलों को लेकर उन्होंने अधिकारियों के सामने साक्ष्य प्रस्तुत कर शिकायत की, लेकिन कुछ नहीं हुआ। पात्रों को शादी अनुदान, किसान पेंशन निधि, आवास, कन्या सुमंगला आदि योजनाओं का लाभ मिल जाए इसके लिए ब्लॉक के अफसरों के चक्कर लगाए, लेकिन सफलता नहीं मिली। इनकी शिकायतो में भी कोई कार्रवाई नहीं की गई। अजीत के अनुसार इससे तंग आ चुका हूं। इसलिए उन्हें पद पर बने रहने का कोई अधिकार नहीं है।
जिलाधिकारी विशाख जी ने कहा कि...

घाटमपुर ब्लॉक के एडीओ पंचायत अतुल शुक्ला ने बताया कि ग्राम प्रधान की कोई भी शिकायत है तो उन्हें लिखित में जानकारी देनी चाहिए थी। हमसे जो भी संभव होगा, वह सहयोग किया जाएगा। प्रधान के त्यागपत्र भेजने की जानकारी अभी तक नहीं है। वहीं जिलाधिकारी विशाख जी ने कहा कि पत्र आने पर प्रधान जी को बुलाकर बात की जाएगी। पूरा मामला समझेंगे। किसी खास अधिकारी के जरिये या किसी खास पटल पर रिश्वतखोरी हो रही है तो उसकी जांच कराएंगे।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

बड़ी खबरें

Maharashtra Nagar Panchayat Election Result: 106 नगरपंचायतों के चुनावों की वोटों की गिनती जारी, कई दिग्‍गजों की प्रतिष्‍ठा दांव परOBC Reservation: ओबीसी राजनीतिक आरक्षण पर आज सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई, आ सकता है बड़ा फैसलाUP Election 2022: यूपी चुनाव से पहले मुलायम कुनबे में सेंध, अपर्णा यादव ने ज्वाइन की बीजेपीकेशव मौर्य की चुनौती स्वीकार, अखिलेश पहली बार लड़ेंगे विधानसभा चुनाव, आजमगढ के गोपालपुर से ठोकेंगे तालकोरोना के नए मामलों में भारी उछाल, 24 घंटे में 2.82 लाख से ज्यादा केस, 441 ने तोड़ा दमरोहित शर्मा को क्यों नहीं बनाया जाना चाहिए टेस्ट कप्तान, सुनील गावस्कर ने समझाई बड़ी बातखत्म हुआ इंतज़ार! आ गया Tata Tiago और Tigor का नया CNG अवतार शानदार माइलेज के साथकोरोना का कहर : सुप्रीम कोर्ट के 10 जज कोविड पॉजिटिव, महाराष्ट्र में 499 पुलिसकर्मी भी संक्रमित
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.