गुलाब ने बदल दिया इस किसान के जीवन का स्वरूप, अन्य किसानों के लिए बने प्रेरणाश्रोत

उनका मानना है कि आज शिक्षित किसान अगर समय को देखते हुए तकनीक से खेती करे तो खेती उसके लिए बहुत लाभदायक है।

By: Arvind Kumar Verma

Published: 22 Dec 2020, 08:12 PM IST

Kanpur, Kanpur, Uttar Pradesh, India

कानपुर देहात-हम बात कर रहे हैं कानपुर देहात के झींझक निवासी किसान रंजन कुशवाहा की। जिनके पास 3 बीघे खेत है। खेती कम होने के बावजूद वह दूसरों किसानों से अधिक आय कमा रहे हैं। कोरोना के संकटकाल में भी गुलाब ने उसके साथ साथ भी कई परिवारों को बड़ा सहारा दिया। 2016 में उन्होंने धान, गेहूं, चना आदि से हटकर कुछ बिस्वा में गुलाब के पौधे लगाए थे। तैयार होने पर गुलाब तोड़कर बाजार में बिक्री की तो लागत से अधिक कमाई होने से उन्होंने गुलाब की खेती ही करने का प्रण किया।

वर्तमान में 70- 80 रुपये प्रति किलो के हिसाब से बिक्री हो रही है। रोजाना करीब एक हजार से डेढ़ हजार की कमाई हो जाती है। उन्होंने बताया कि फूलों को बेचने पर लागत से अच्छी आमदनी हुई तो उन्होंने और कलमें लगाईं। आज करीब 10 हजार पौधे हैं। आज सीजन में वह प्रति माह गुलाब से 40 से 45 हजार रूपए कमाते हैं। उनका मानना है कि आज शिक्षित किसान अगर समय को देखते हुए तकनीक से खेती करे तो खेती उसके लिए बहुत लाभदायक है।

Show More
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned