जिंदगी का नया अध्याय : जेल के कैदी अब पढ़ेंगे सेहत सुधारने का पाठ

कानपुर के खूंखार 166 कैदी सुधार की राह पर निकले, फूड एंड न्यूट्रीशन सर्टिफिकेट के लिए सर्वाधिक ने अर्जी

By: आलोक पाण्डेय

Published: 15 Jan 2018, 05:21 PM IST

कानपुर. जिला कारागार में बंद 166 खूंखार कैदी अब जिंदगी का नया अध्याय रचेंगे। संगीन धाराओं में सजा काट रहे कैदियों ने सुधार की राह पर चलने का फैसला किया है। कैदियों ने खुद को काबिल बनाने के लिए जेल की क्लास में दाखिला किया है। सर्वाधिक 90 कैदियों ने फूड एंड न्यूट्रिशन सर्टिफिकेट कोर्स के लिए अर्जी लगाई है। जेल की क्लास में छह माह की पढ़ाई होगी और परीक्षा पास करने के बाद सर्टिफिकेट मिलेंगे। इसके बाद जेल से छूटने के बाद कैदी किसी भी संस्थान में बतौर डाइटीशियन काम कर सकेंगे।

 

 

इग्नू के जरिए कैदियों की काबिलियत बढ़ेगी

जेलों में बंद सजायाफ्ता कैदियों को शिक्षित और आत्मनिर्भर बनाने के लिए इग्नू (द पीपुल यूनिवर्सिटी) कई कोर्स चलाती है। इग्नू ने अब यूपी के जेलों में कैदियों को शिक्षित करने का अभियान शुरू किया है। इसी परिपेक्ष्य में इग्नू की ओर से पठन सामग्री मिलेगी, जबकि विश्वविद्यालय काउंसलर और जेल अधिकारियों की मौजूदगी में पारदर्शी तरीके से परीक्षा होगी। जेल अधीक्षक के मुताबिक अधिकतर बंदी/कैदी इंटर पास नहीं हैं। अब वे इंटर नहीं करना चाहते, लेकिन स्नातक की डिग्री चाहते हैं। ऐसे लोगों के लिए इग्नू ने विशेष कोर्स बनाया है। इस कोर्स में बीपीपी (बैचलर प्रिपेरेट्री प्रोग्राम) के लिए आवेदन किया जाएगा। इस कोर्स को पास करने के बाद कैदी सीधे स्नातक के लिए आवेदन फॉर्म भर सकते हैं।

 

 

फूड एंड न्यूट्रीशन कोर्स के आवेदन सबसे ज्यादा


फूड एंड न्यूट्रीशन कोर्स के लिए सबसे अधिक आवेदन हत्या, हत्या की साजिश, दहेज हत्या, दहेज प्रताडऩा में बंद कैदियों ने किए हैं। इस बदलाव की बयार में जेल के पुराने समय से हुनर निखारने का काम मंदा हो गया है। अब तमाम पुश्तैनी कामों, जैसे नाई, मोची, बागवानी जैसे विषयों में कैदियों ने रुचि नहीं दिखाई है। फूड एंड न्यूट्रीशन कोर्स की क्लास जेल में शुरू हो चुकी हैं। सप्ताह में एक-दो दिन काउंसलर भी कैदियों को आत्मनिर्भर बनाने के टिप्स देते हैं।

 

कुछ खास बातें

166 बंदी/कैदी ने इस वर्ष जेल में आवेदन फॉर्म भरे हैं

90 ने फूड एंड न्यूट्रीशन कोर्स के लिए के आवेदन किया

76 ने बीपीपी और बीए के लिए भरे हैं आवेदन फॉर्म

 

 

जेल में बंद 166 बंदी/कैदी ने आवेदन फॉर्म भरे हैं। सबसे अधिक आवेदन फूड एंड न्यूट्रीशन कोर्स के लिए आए हैं। इस सर्टिफिकेट के दम पर भविष्य में कैदी नौकरी के जरिए अपने परिवार का ईमानदारी से खर्च चला सकते हैं। -डॉ. वीके कटियार, कोआर्डिनेटर-स्टडी सेंटर इग्नू

 

आलोक पाण्डेय
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned